जागरण संवाददाता, करनाल : अर्ली चाइल्डहुड केयर ऑफ एजुकेशन के तहत समग्र शिक्षा अभियान की ओर से आंगनबाड़ी वर्करों को स्पेशल ट्रेनिग दी जा रही है। ताकि आंगनबाड़ी केंद्र में जाने वाले हर बच्चे को स्कूल जाने के लिए तैयार किया जा सके। प्रेमनगर स्थित गवर्नमेंट सीनियर सेकेंडरी स्कूल में चल रही ट्रेनिग में दूसरे दिन भी छह ब्लॉकों से 154 आंगनबाड़ी वर्करों ने हिस्सा लिया।

प्रशिक्षक मीना शर्मा, कविता, मीनू, रेखा, मुकेश्वरी व रीना ने उन्हें अभियान के तहत कार्य करने का प्रशिक्षण दिया। कार्यक्रम में वर्कर हर बच्चे के बचपन को यादगार कैसे बनाया जाए, इस विषय के बारे में उन्होंने आंगनबाड़ी वर्कर्स से चर्चा की। प्रशिक्षकों ने कहा कि हम सभी के बचपन के भी कई ऐसे किस्से हैं। जो आज भी हमें याद आते हैं और कुछ नया करने को प्रेरित करते हैं। इन किस्सों को हमने बच्चों के साथ शेयर करना है। ताकि वे भी अपने बचपन को यादगार बना सकें। उन्होंने कहा कि पॉजिटिविटी की तरफ ले जाने वाली बातों से बच्चों की सोच में परिवर्तन आएगा। वे भी जीवन में कुछ बनने के बारे में सोचेंगे। इससे उनके मन में स्कूल जाने की ललक भी पैदा होगी।

कार्यक्रम में समग्र शिक्षा अभियान की परियोजना संयोजक की सहायक अंजु व एबीआरसी हेमा शर्मा विशेष रूप से उपस्थित रही।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप