संवाद सहयोगी, घरौंडा : यूनिवर्सल एकेडमी सीनियर सेकेंडरी रेजिडेंशियल स्कूल घरौंडा में ग्रांड पेरेंट्स डे मनाया गया। इस मौके पर सांस्कृतिक कार्यक्रमों ने मन मोह लिया। स्काउट ने शानदार परेड से अतिथियों का स्वागत किया। ज्ञान की देवी मां सरस्वती की प्रतिमा पर स्कूल के प्रबंध निदेशक आचार्य अमित आर्य, शैक्षिक निदेशक अरविद जागलान, जनक सिंह राणा, जसमेर राणा, यशपाल राणा, प्राचार्या संगीता आदि ने शुभारम्भ किया। विद्यालय के स्काउट्स ने सलामी दी। पूर्व प्राथमिक विभाग के छात्रों द्वारा दादा-दादी व नाना-नानी का चंदन तिलक से स्वागत किया। स्केटिग व जिमनास्टिक के छात्रों ने सुंदर करतब दिखाए। अध्यापिका गुरित कौर ने ग्रांड पैरेंटस के महत्व पर प्रकाश डाला। बुजुर्गों में 78 वर्षीय जगदीश लाल, 74 वर्षीय महासिंह व हरिसिंह को सबसे अधिक आयु के अभिभावक होने पर सम्मानित किया गया। प्रबंध निदेशक आचार्य अमित आर्य ने कहा कि भारत में पाश्चात्य संस्कृति का प्रभाव तेजी से बढ़ रहा है। मुख्य अतिथि एसडीएम गौरव कुमार ने संस्कारों के महत्व पर प्रकाश डाला। सुप्रसिद्ध आईटी मोटिवेटर अंकुर बाली ने चारित्रिक शिक्षा पर बल दिया। आर्य समाज के विख्यात संत स्वामी संपूर्णानंद सरस्वती ने विदेशी अभिभावकों का उदाहरण देते हुए कहा कि बच्चों को स्मार्ट फोन का प्रयोग न करने दें। शैक्षिक निदेशक अरविद जागलान ने आभार जताया। आर्या व तेजस्विनी ने संचालन किया। प्राचार्या संगीता ने सबको सम्मानित किया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस