जागरण संवाददाता, करनाल : सोमवार को हुए मतदान के बाद जिला की पांचों विधानसभा की अलग-अलग स्ट्रांग रूम में रखी ईवीएम पर तीन स्तरीय पहरा लगाया गया है। इसमें बीएसएफ, सीआरपीएफ व पुलिस के जवानों को तैनात किया गया है। सुरक्षा व्यवस्था जांचने के लिए सोमवार देर रात से लेकर मंगलवार दिन भर एसपी व अन्य उच्चाधिकारी भी स्ट्रांग रूम की निगरानी करते रहे।

बता दें कि करनाल विधानसभा क्षेत्र के लिए डीएवी पीजी कॉलेज, इंद्री के लिए डीएवी पब्लिक स्कूल, नीलोखेड़ी के लिए दयाल सिंह कॉलेज, घरौंडा के लिए कर्ण स्टेडियम स्केटिग हाल व असंध के लिए एसबीएस स्कूल में स्ट्रांग रूम बनाया गया है। यहां ईवीएम रखने का सिलसिला सोमवार आधी रात तक जारी रहा।

सुरक्षा की व्यवस्था

पहला स्तर - बीएसएफ या सीआरपीएफ के करीब 30 जवानों की प्लाटून

दूसरा स्तर-- आइआरबी के 27 जवानों की प्लाटून

तीसरा स्तर-- जिला पुलिस के 15-15 जवान दो-दो डीएसपी को भी जिम्मा

हर विधानसभा क्षेत्र के स्ट्रांग रूम की सुरक्षा का जिम्मा वरिष्ठ अधिकारियों को दिया गया है। इसमें पुलिस विभाग के डीएसपी के साथ-साथ एक डीएसपी स्तर का बीएसएफ या सीआरपीएफ अधिकारी। उनके साथ एक इंस्पेक्टर, दो सब इंस्पेक्टर व 72 सिपाही भी हर स्ट्रांग रूम पर तैनात किए गए हैं।

पुलिस विभाग सुरक्षा शाखा प्रमुख राजबीर सिंह ने बताया कि स्ट्रांग रूम के बाहर कड़े सुरक्षा प्रबंध हैं। इसके लिए पुलिस के अलावा बीएसएफ, सीआरपीएफ व आरआरबी के जवानों को अधिकारियों को विशेष निगरानी में तैनात किया गया है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप