जागरण संवाददाता, करनाल : प्रदेश के विभिन्न जिलों के साथ-साथ पंजाब में भी की जाने वाली चूरापोस्त तस्करी के तार मध्यप्रदेश से जुड़े हैं। जहां से सब्जियों के ट्रकों में ये नशीला पदार्थ पदार्थ छुपाकर लाया जाता था। यह रहस्योद्वाटन पुलिस द्वारा पुलिस द्वारा पकड़े गए दूसरे आरोपित नवदीप वासी काछवा ने पूछताछ में किया है। पुलिस ने उससे करीब एक लाख 60 हजार रुपये कीमत का चूरापोस्त भी बरामद किया है। 19 जुलाई को ही एंटी नारकोटिक सैल इंचार्ज निरीक्षक मोहनलाल व उनकी टीम ने गुप्त सूचना के आधार पर आरोपी मंजीत सिह उर्फ फौजी वासी गांव राय फार्म काछवा को 100 किलोग्राम चूरापोस्त सहित गिरफ्तार किया था, जिसने पूछताछ में बताया कि वह चूरापोस्त को नवदीप से खरीददता था। आरोपित मंजीत को 20 जुलाई को अदालत में पेश कर दो दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया था, जिसे अब जेल भेज दिया गया। पुलिस ने दूसरे आरोपित नवदीप को भी गिरफ्तार कर लिया है तो उसके कब्जे से 40 किलोग्राम चूरापोस्त बरामद किया गया। मोहनलाल ने बताया कि पूछताछ के दौरान आरोपित नवदीप ने बताया कि वह पैसे कमाने के लिए यह काम करता है। और वह पिछले तीन-चार साल से इस अवैध नशे के कारोबार में संलिप्त है। वह चूरापोस्त मध्यप्रदेश से सब्जियों के भरे ट्रक में छुपाकर लाता था। इसके बाद हरियाणा व पंजाब में बेचकर पैसे कमाता था। आरोपित को अदालत में पेश कर पांच दिन के रिमांड पर लिया गया है।

Edited By: Jagran