संवाद सहयोगी, असंध : सालवन गांव स्थित पीएचसी में चिकित्सक के न आने पर ग्रामीणों ने रोष व्यक्त किया है। रणजोर, बजिदर, चमना, जयबीर, सुखदेव, दीपक, मोहित, प्रांशु ने इसे लेकर नारेबाजी की। उन्होंने बताया कि जब भी कोई रात के समय डिलीवरी के लिए आता है तो पीएचसी में सुनवाई नहीं होती है। रात के समय तैनात चिकित्सक को फोन पर बुलाया जाता है और इस दौरान प्रसव पीड़ा से महिला को परेशानी से गुजरना पड़ता है। ग्रामीणों ने कहा कि सुबह 9.30 बजे तक चिकित्सक नहीं पहुंच पा रहे हैं और सभी कुर्सियां खाली पड़ी रहती हैं। मरीज को दवा देने वाला कोई नहीं होता। जयबीर फौजी और रणजोर ने बताया कि यहां पर कोई भी वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी नहीं है। उनके कमरे के सामने ताला लटका रहता है। एसएमओ डा. संदीप अबरोल ने बताया कि स्टाफ की कमी के चलते परेशानी हो रही है। चिकित्सक की ड्यूटी लगाई गई है और उनकी ड्यूटी अलग-अलग जगह होती है।

Posted By: Jagran

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस