करनाल : शहर में डेंगू के मरीज लगातार बढ़ते जा रहे हैं। शहर में डेंगू के मरीजों का आंकड़ा बढ़कर 36 हो गया है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा घर-घर जाकर कूलर, टंकी, बर्तनों, गमलों आदि की जांच की जा रही है। इसके लिए गठित टीम में एपपीएचएस, एमपीएचडबल्यू, फील्ड वर्कर, ब्रीडर चैकर शामिल है। उन्होंने बताया कि अब तक 232036 घरों में चेकिग की गई जिसमें से 4971 घरों में लारवा पाया गया। टीमों द्वारा 160499 टंकियां चैक की गई। जिनमें से 417 टंकियों में लारवा मिला। जिसे मौके पर एंटी लारवा एक्टिविटी द्वारा समाप्त किया गया। इसके अतिरिक्त 87220 कूलरों की चेकिग की गई जिसमें से 2775 कूलरों में मच्छर का लारवा पाया गया। फागिग को लेकर तैयार किया गया एक्शन प्लान

सिविल सर्जन डा. योगेश शर्मा ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा शहर में फागिग के लिए सभी नगर पार्षद को साथ लेकर एक्शन प्लान तैयार किया गया है। उन्होंने बताया कि बसंत विहार, शास्त्री कालोनी, पुरानी सब्जी मंडी, आनंद विहार, नगर निगम कार्यालय, चौधरी कालोनी, सेक्टर 6, 7, 12, 13, 14 व 17 इत्यादि में फोगिग का कार्य करवाया जा चुका है। उन्होंने बताया कि केसीजीएमसी में अलग से डेंगू वार्ड बनाया गया है। डेंगू के इलाज के लिए आवश्यकता पड़ने पर सरकारी अस्पताल में दाखिल मरीजों को प्लेटलेट्स मुफ्त में दिए जाते हैं व सामान्य परिवारों के लिए 300 रुपये में उपलब्ध हैं। पहले से गठित आरआरटी टीम प्रत्येक केस की जांच कर रही है। अभी तक रूरल व अर्बन एरिया में 45 स्कूलों में लारवा की जांच की गई है तथा बच्चों को डेंगू के प्रति जागरूक किया जा रहा है।

Edited By: Jagran