जागरण संवाददाता, करनाल : विदेश भेजने के नाम पर छह लाख रुपये की ठगी का मामला सामने आया है। गांव फूसगढ़ निवासी उमा देवी ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि आरोपित दिनेश कुमार और विजय कुमार ने उसके भांजे और भाई को विदेश भेजने के नाम पर 6 लाख 70 हजार रुपये ठग लिए। पैसे वापस मांगने पर आरोपितों ने जान से मारने की धमकी दी।

उमा ने बताया है कि वह दो साल पहले सेक्टर-6 में एक ब्यूटी पार्लर में ब्यूटीशियन का काम करती थी। इसी दौरान पार्लर की संचालिका नूतन ने बताया कि उसका एक जानने वाला है, जो उसके दोनों भाइयों और भांजे के को विदेश भेज सकता है। उसके हां कहने पर नूतन ने दिनेश कुमार से उसकी मुलाकात कराई। दिनेश ने आस्ट्रेलिया भेजने व अच्छा काम दिलवाने का झांसा देते हुए 10 लाख रुपये मांगे। नूतन के कहने पर उसने आरोपित पर विश्वास कर लिया।

12 अप्रैल 2017 को उसके भाइयों सन्नी व प्रदीप के पासपोर्ट बनवाने और मेडिकल करवाने के लिए 39 हजार 500 रुपये दिनेश को दिए। इसके बाद दोनो भाइयों व भांजे किशन को आस्ट्रेलिया भेजने के लिए उसकी मां ने मकान की रजिस्ट्री व जेवर आदि गिरवी रख कर 5 लाख रुपये दिनेश कुमार को दिए। इस दौरान विजय नामक युवक भी उसके साथ था। कुछ दिन बाद आरोपित ने भाई व भांजे किशन का टूरिस्ट वीजा बनवाकर वियतनाम भेज दिया। पूछने पर उसने कहा कि कुछ दिनों के बाद दोनों को आस्ट्रेलिया भेज देंगे। लेकिन वियतनाम पहुंचने के बाद हवाई अड्डे से निकलते ही आरोपितों के साथियों ने दोनों से 600 डालर और कागज छीन लिए। इसके बाद किसी तरह दोनों भारत वापस आए। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran