फोटो 23

जागरण संवाददाता, करनाल : गहरी धुंध के चलते अलग-अलग जगह तीन हादसे हुए, जिनमें रोडवेज बस चालक-परिचालक सहित सात लोग घायल हुए। घायलों में दो महिलाएं भी शामिल हैं। दो हादसे दिल्ली-चंडीगढ़ नेशनल हाईवे पर हुए तो वहीं एक हादसा निसिग क्षेत्र में हुआ। नेशनल हाईवे पर मधुबन के समीप पानीपत की ओर जा रही हरियाणा रोडवेज की बस हाईवे पर खड़े ट्रक से टकरा गई, जिसमें चालक अनिल कुमार व परिचालक राकेश कुमार, यात्री सेक्टर सात वासी प्रीतम सहित दो अन्य यात्री भी घायल हो गए। वहीं दूसरा हादसा मधुबन पुलिस अकादमी के पास हुआ, जहां हाईवे पर अचानक खराब हुए एक ट्रक में पीछे से एक ट्रक टकरा गया, जिसके पीछे तीन अन्य वाहन भी टकरा गए। इनमें हालांकि वाहनों में सवार लोग बाल-बाल बच गए, लेकिन वाहन बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गए। इन हादसों से हाईवे पर जाम की स्थिति बन गई और सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और क्रेन की मदद से क्षतिग्रस्त वाहनों को हटाकर यातायात सुचारू कराया गया।

ट्रैक्टर की चपेट में आई दो महिलाएं घायल

कस्बे के कैथल रोड पर मजदूरी के लिए जा रही दो महिलाएं क्रेन में तबदील एक ट्रैक्टर की चपेट में आ गई। जिससे वे गंभीर रूप से घायल हो गई। जिन्हें गंभीर हालत में सीएचसी निसिग से राजकीय कल्पना चावला मेडिकल कालेज करनाल रेफर कर दिया। महिलाएं निसिग के वार्ड नंबर आठ वासी कमलेश व केशो देवी मजदूरी के लिए घर से निकली थी। एक पेट्रोल पंप के पास पीछे से आ रहे बिजली के खंबे उखाड़ऩे व लगाने के लिए क्रेन बने टैक्टर ने उन्हें टक्कर मार दी। सूचना मिलते ही पुलिस ने मौके पर पहुंच ट्रैक्टर को अपने कब्जे में ले लिया।

हादसे में स्कूटी सवार की मौत

करनाल : दिल्ली-चंडीगढ़ नेशनल हाईवे पर एक ट्रैक्टर की चपेट में आने से स्कूटी सवार युवक की मौत हो गई। जाटों गेट वासी जितेंद्र कुमार ने बताया कि वह दिल्ली की ओर से आ रहा था। बसताड़ा टोल प्लाजा पर उसे अचानक जाटों गेट वासी ही दीपक करनाल की ओर स्कूटी पर आते मिला। वह उसके साथ स्कूटी पर बैठ गया और दोनों गांव कुटेल के समीप पहुंचे ही थे कि एक ट्रैक्टर-ट्राली ने उन्हें अपनी चपेट में ले लिया। हादसे में वे दोनों घायल हो गए जबकि दीपक की हालत ज्यादा गंभीर हो गई। उसे सिविल अस्पताल लाया गया, जहां चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के बाद स्वजनों को सौंप दिया।

Edited By: Jagran