जागरण संवाददाता, करनाल : नियम 134-ए के तहत निजी स्कूलों में दाखिला देने से पहले मौलिक शिक्षा निदेशालय ने बच्चों को उलझा कर रख दिया है। देरी के चलते ऑनलाइन प्रक्रिया के तहत दाखिले को पारदर्शी और सरल बताने वाले अधिकारियों की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े कर दिए हैं। 18 अप्रैल को जारी हुए पहले ड्रा के बाद शनिवार को दूसरा ड्रा जारी किया गया है। इस दौरान बच्चों के अभिभावक बीइओ व डीइओ कार्यालय में स्कूल अलॉटमेंट की तारीख पूछने में कई चक्कर लगा चुके हैं। शिक्षा अधिकारियों के अभिभावकों को आवेदन प्रक्रिया बारे में सही न समझा पाने के कारण कई बच्चे दाखिले से वंचित रह गए हैं। ऑनलाइन प्रक्रिया में निजी स्कूल संचालकों की मनमर्जी भी बच्चों पर हावी रही है। गर्मी के मौसम में बीईओ व डीइओ कार्यालय में चक्कर काटकर थक चुके बच्चों के अभिभावकों को राहत देते हुए विभाग ने डेढ़ माह बाद दूसरे ड्रा की लिस्ट जारी कर दी गई है। शनिवार को जारी ड्रा में 1653 में से 524 बच्चों को ही स्कूल मिला है। अब विभाग ने आवेदकों के मोबाइल फोन नंबर पर 10 जून को अलाट हुए स्कूलों में रिपोर्ट करने का मैसेज भेजा है। साथ ही, कक्षा 11वीं की 253 सीटों पर 90 विद्यार्थियों ने आवेदन किया था, जिन्हें स्कूल अलॉट कर दिया गया है। करनाल के सभी छह खंडों में कक्षा दो से 12वीं में दाखिले के लिए 6748 बच्चों ने परीक्षा में क्वालीफाई किया था, जिसमें से करनाल खंड के 3224 बच्चे शामिल थे। सीबीएसई स्कूलों के मोह से सभी सीटें फुल

अधिकारियों की माने तो अधिकतर बच्चों का मोह हरियाणा शिक्षा बोर्ड के स्कूलों में न होने के कारण सीबीएसई स्कूलों की सीटें फुल हो गई। बच्चों ने स्कूलों के विकल्प देने के दौरान हरियाणा बोर्ड के स्कूलों से परहेज किया है। ऑनलाइन प्रक्रिया और शिक्षा बोर्ड चयन के फेर में फंसे 1129 विद्यार्थी स्कूल की अलाटमेंट से बाहर हो गए हैं। पहले ड्रा के 1475 में 776 विद्यार्थियों का ही दाखिला लिया जा सका है। खंड के 113 स्कूलों में 3192 सीटों पर आर्थिक तौर पर कमजोर बच्चों के दाखिले किए जाने थे जबकि इससे आधे बच्चे भी दाखिला नहीं ले सके हैं। दूसरे ड्रा में 524 बच्चों को विभाग की ओर से स्कूल अलाट कर दिए गए हैं। आवेदकों को जारी मैसेज के अनुसार सोमवार को चयनित बच्चों ने स्कूलों में रिपोर्ट करनी है। दाखिला प्रक्रिया में समय लग सकता है, इस पर विभागीय आदेश का इंतजार रहेगा। बच्चों के दाखिले के लिए अभिभावक आज स्कूलों में रिपोर्ट जरूर करें। प्रत्येक बच्चे का दाखिला निश्चित तौर पर करवाया जाएगा।

-चंद्रेश विज, बीईओ करनाल

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप