जागरण संवाददाता, करनाल : पर्यावरण संरक्षण समिति की ओर से मुगला मुहल्ला स्थित समाजसेवी ईश्वर छाबड़ा के निवास स्थान पर हवन का आयोजन किया गया। समिति महिला प्रधान शशी आर्या की ओर से वैदिक विधि से हवन संपन्न कराया गया। उन्होंने कहा कि हवन सामग्री एवं आम की लकड़ी जलने से वायुमंडल में बैक्टीरिया एवं गंदे कीटाणु मर जाते हैं और वायुमंडल शुद्ध व रोग रहित हो जाता है। समिति अध्यक्ष एसडी अरोड़ा ने बताया कि अग्नि एक विस्फोटक का काम करती है। जैसे एक लाल मिर्च को आग में डाल दिया जाए, तो उसके जलने से आसपास के वातावरण में बहुत कड़वाहट फैल जाती है और लोग वहां पर बैठ ही नहीं सकते। इसी प्रकार शुद्ध हवन सामग्री एवं घी की थोड़ी सी मात्रा, हवन की आग में डालने से वातावरण शुद्ध होता है। सभी ने यज्ञ में आहुतियां डालकर पर्यावरण शुद्धि की कामना की।

इस अवसर पर डॉ. डीएन गांधी, आरआर अत्री, ईश्वर छाबड़ा, डॉ. पुष्पा सिन्हा, मधु शर्मा, भावना, उमा गोयल, रक्षा देवी, मानसी, रुचि, रितू व तेजस्वी मौजूद रहे।

Posted By: Jagran