जागरण संवाददाता, करनाल : नागरिक अस्पताल के मनोरोग विशेषज्ञ डॉ. आशीष अग्रवाल ने कहा कि मानसिक रोगों का मुख्य कारक बदलता लाइफ स्टाइल, अपेक्षाओं का बोझ, जिम्मेदारियों को तेजी से पूरा करने की ललक, आगे बढ़ने की होड़ है। जो आज समाज में डिप्रेशन को बढ़ावा दे रहे है। कालेज के बच्चों को नशे के बारे मे जागरूक किया गया। वह वीरवार को सेक्टर-14 स्थित पंडित चिरंजीलाल शर्मा राजकीय स्नातकोतर महाविद्यालय में आयोजित कार्यक्रम में बोल रहे थे। उन्होंने बताया कि जिले के विभिन्न स्कूलों, कालेजों में विश्व मानसिक स्वास्थ्य पखवाड़ा मनाया जा रहा है। यह दिवस प्रत्येक वर्ष 10 अक्टूबर को मनाया जाता है। डिप्टी सिविल सर्जन डॉ. सिम्मी कपूर ने बताया कि मानसिक रोगों का इलाज सभंव है। लोग काउंसलिग और इलाज कराने के बाद सफल हुए हैं और अच्छी जिदगी जी रहे हैं। जिदगी के प्रति संतुलित नजरिया रखें। भावना वधवा ने कविता से कालेजों के बच्चों को जागरूक किया गया। इस दौरान आयोजित प्रतियोगिता के विजेताओं को पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया। प्राचार्या डॉ. रेखा शर्मा, डॉ. रूपलाल, डॉ. शीशपाल, डॉ. प्रमोद, डॉ. उपेंद्र, संगीता, ज्योति, डा. आशीष अग्रवाल मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप