संवाद सहयोगी, घरौंडा : मधुबन स्थित हरियाणा पुलिस कांप्लेक्स में रुपये डबल करने का झांसा देकर यहां रह रहे दो पुलिस कर्मियों और उनकी पत्नी पर ठगने का आरोप लगा है। आरोपितों का शिकार चतुर्थ बटालियन में चतुर्थ श्रेणी कर्मी का परिवार आया हुआ है, जिसकी पत्नी को धोखाधड़ी के जाल में फंसाया तो मामला आइजी तक भी पहुंचा। आइजी योगेद्र नेहरा पहुंचे तो पीड़ित दंपती ने न्याय की गुहार लगाई। इसके बाद आइजी ने मधुबन एसएचओ को मौके पर बुलाया तो कार्रवाई के निर्देश दिए। इस पर आरोपितों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया। अकादमी के ओल्ड एलआइजी क्वार्टर में रह रहे राजकुमार के मुताबिक उसकी गैर मौजूदगी में पड़ोस के क्वार्टर में रहने वाले कर्मचारी रमेश की पत्नी शीला ने उसकी पत्नी सीमा को तीन माह में पैसे डबल करवाने का झांसा दिया। शीला की बातों में आकर उसकी पत्नी ने अपनी एफडी से दो लाख की रकम निकालकर शीला को दे दी। दो लाख रुपये लेने के बाद शीला सीमा को लेकर एक अन्य कर्मचारी की पत्नी हरमीत के पास पहुंची। तीन माह बाद जब उसकी पत्नी ने जुलाई में रुपये मांगे तो जल्द देने का आश्वासन मिला। अगस्त में जब शिकायतकर्ता को पता लगा तो उसने महिला से बात की तो उसने रुपये लौटाने से इनकार कर केस में फंसाने और मारने की धमकी दी। करोड़ों की ठगी कर चुके : राजकुमार

शिकायतकर्ता राजकुमार ने बताया कि रमेश कुमार पुलिस अस्तबल में रईयस के पद पर तैनात है, जबकि मनिद्र पांचवी बटालियन में ड्राइवर है। दोनों कर्मचारियों की पत्नियां महिलाओं को पैसे डबल करने का लालच देकर उनको अपने जाल में फंसा लेती हैं। शिकायतकर्ता का आरोप है कि ये लोग करोड़ों की ठगी कर चुके हैं। आरोपितों पर केस दर्ज, जांच शुरू : एसएचओ

मधुबन एसएचओ तरसेम चंद का कहना है कि आरोपित महिला शीला और उसके पति रमेश कुमार, महिला हरमीत और उसके पति मनिद्र के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप