जागरण संवाददाता, करनाल : ओल्ड सब्जी मंडी और ओल्ड नगर निगम स्थल पर समुचित वाहन पार्किंग के लिए निर्धारित स्थल पर काम जल्द पूरा होगा। डीसी निशांत यादव ने वीरवार को अधिकारियों के साथ यहां का दौरा किया।

ओल्ड सब्जी मंडी स्थल पर पार्किंग को लेकर मौजूदा दुकानों के आगे कुछ स्पेस छोड़कर लोहे के एंगल व जालियों से पक्की बैरिकेडिंग कर दी है तो दूसरी ओर ओल्ड नगर निगम स्थल पर इंटरलॉकिग पेवर ब्लॉक्स लगाने का काम चल रहा है, जो अगले एक-दो दिन में समाप्त होगा। दोनों जगह का मौका मुआयना कर उपायुक्त ने इसे कार व बाइक की पार्किंग के लिए माकूल स्थल बताया। उन्होंने कहा कि पार्किंग की व्यवस्था से कर्ण गेट एरिया में वाहनों से होने वाले जाम की समस्या नहीं होगी। लोग अपनी गाड़ियों को पार्किंग में लगाकर बाजार में आएंगे। आने-जाने के लिए ठेकेदार अपनी तरफ से ई-रिक्शा मुहैया करवाएगा।

ई-रिक्शा चार्जेज सहित बाइक व कार का 2 घंटे और उससे ज्यादा तक कितना किराया हो, इस पर भी सीईओ ने स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के अधिकारियों के साथ मंथन किया। उन्होंने बताया कि पार्किंग का किराया जायज ही होगा। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि जल्द पार्किंग ठेके का टेंडर लगाएं और फरवरी में ही सुविधा शुरू हो जाए।

बाजारों में भीड़ होगी कम

डीसी ने बताया कि पार्किंग की समुचित व्यवस्था से वाहनों की भीड़ नहीं रहेगी। ग्राहक ठेकेदार की ई-रिक्शा से खरीददारी करेगा और वापस पार्किंग स्थल पर रिक्शा छोड़कर अपना वाहन ले लेगा। ग्राहक और दुकानदार दोनों खुश रहेंगे। कई बड़े शहरों में ऐसा चल रहा है, जो पूरी तरह कामयाब है।

जरनैली कोठी में भी होगा विकास

डीसी ने बताया कि कुंजपुरा रोड पर जरनैली कोठी नाम से सरकारी जमीन है। वहां भी एरिया के वाहनों को पार्क करने की क्षमता है। इस जगह को पार्किंग के रूप में विकसित कर रहे हैं, यहां भी ठेका छोड़ा जाएगा। कुंजपुरा रोड पर भी वाहनों की अवैध पार्किंग की समस्या है, उससे छुटकारा मिलेगा। उन्होंने नागरिकों से कहा कि उचित जगह वाहन पार्क करने का मन बना लें। डीसी के साथ स्मार्ट सिटी के जीएम रमेश मढ़ान, एसई दीपक किगर, एक्सईएन सौरभ गौयल तथा पीएमसी प्रवीन झा मौजूद रहे।

Edited By: Jagran