संवाद सूत्र, नीलोखेड़ी: पंचायत समिति में सदस्य के फर्जी हस्ताक्षर कर चेयरमैन और वाइस चेयरमैन की ओर से करोड़ों रुपये का गबन करने का मामला सामने आया है। समिति की महिला सदस्य ने यह मामला उजागर किया तो पुलिस ने भी शिकायत के आधार पर केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

वार्ड नंबर 30 से ब्लाक समिति सदस्य रेखा ने अगस्त 2020 को डीसी और एसपी को दी शिकायत में ब्लॉक समिति के चेयरमैन हुक्म सिंह राणा और वाइस चेयरमैन गौरव के खिलाफ गंभीर आरोप लगाते हुए बताया कि उसे विभिन्न माध्यमों से पता लगा कि ब्लॉ समिति नीलोखेडी में जाली हस्ताक्षर करके करोड़ों रुपये निकलवाए हैं। संदेह होने पर जब पंचायत समिति का रजिस्टर चेक किया तो अनेक जगह हस्ताक्षर उनके नाम से किए मिले। जबकि वह मीटिग में पांच या छह बार गई थी। यही हस्ताक्षर असली थे जबकि बाकी सभी हस्ताक्षर फर्जी थे। ये चेयरमैन तथा वाईस चेयरमैन ने आपस में मिलीभगत करके विकास के नाम पर पैसा निकलवाने के लिए किए हैं। शिकायत में आगे लिखा गया है कि उनके पास तीन या चार मीटिगों का पत्र आया है, जिसमें उन्होने हिस्सा भी लिया। इसके अलावा उन्हें किसी मीटिग की न सूचना मिली और न ही वह मीटिग में शमिल हुई है। 10 जुलाई 2020 की मीटिग की उन्हें सूचना अवश्य मिली थी, लेकिन किसी कारण वह मीटिग में शमिल नही हो सकी थी। तीन लाख की पेशकश

महिला सदस्य की ओर से लगाए आरोपों के अनुसार 20 अगस्त 2020 को सुबह 11 बजे पंचायत समिति की मीटिग पंचायत कार्यालय में रखी थी। पंचायत समिति का बकाया फंड हडपने के लिए चेयरमैन और वाइस चेयरमैन ने उसे हस्ताक्षर करने के लिए तीन लाख रुपये देने की पेशकश की। समिति के खाते से पैसा निकलवा कर कोरम पूरा करने वाले 16 सदस्यों में बांटा जाए, लेकिन कानून पसंद महिला होने के नाते उसने ये पेशकश ठुकरा दी और हस्ताक्षर करने से मना कर दिया। पंचायत समिति सदस्य ने आरोपित चेयरमैन और वाइस चेयरमैन के खिलाफ कानूनी कार्रवाई और मुकदमा दर्ज करने की मांग की थी। आरोप बेबुनियाद: चेयरमैन

पंचायत समिति के चेयरमैन हुकम सिंह राणा से संपर्क किया तो उन्होंने बताया कि महिला सदस्य की ओर से लगाए सभी आरोप बेबुनियाद हैं। महिला सदस्य पति सहित बैठक में भी आती रही हैं। उनकी ओर से किए सभी हस्ताक्षरों का मिलान किया जाए तो सब कुछ स्पष्ट हो जाएगा। की जा रही मामले की जांच : कृष्ण कुमार

नीलोखेड़ी चौकी इंचार्ज कृष्ण कुमार ने बताया कि चेयरमैन और वाइस चेयरमैन के खिलाफ फिलहाल मामला दर्ज कर लिया गया है। फिलहाल मामले की गहनता से जांच की जा रही है।

Edited By: Jagran