जागरण संवाददाता, करनाल : जुंडला गेट स्थित एक गोदाम में बिना लाइसेंस फर्जी ढंग से ल्यूब्रीकेंट तेल व ग्रीस अपने लेबल के साथ बेचे जाने का भंडाफोड़ हुआ है। सीएम फ्लाईग टीम ने संबंधित विभागों के अधिकारियों के साथ छापेमारी कर न केवल भारी मात्रा में तेल व ग्रीस का स्टाक बरामद किया बल्कि आरोपित संचालक के खिलाफ पुलिस ने केस भी दर्ज कर लिया है। मामले की तमाम पहलुओं से जांच की जा रही है।

बताया जा रहा है कि सीएम फ्लाईग को सूचना मिली थी कि जुंडला गेट स्थित पेट्रो कैमिकल्स फैक्ट्री एवं गोदाम में अपने स्तर पर लेबल लगाकर फर्जी तरीके से ल्यूब्रीकेंट तेल व ग्रीस बाजार में बेचा जा रहा है। सूचना पर सीएम फ्लाईग के एसआइ राममेहर की अगुवाई में टीम ने दलबल के साथ छापेमारी की। उनके साथ वाणिज्य विभाग के सहायक निदेशक सचिन कुमार व उद्योग विस्तार अधिकारी शमशेर सिंह व पुलिस बल भी मौजूद रहा। वीरवार दोपहर से शुरू हुई जांच देर रात तक जारी रही जबकि शुक्रवार को भी पॉल्यूशन विभाग व उद्योग विभाग की टीम ने मौके का निरीक्षण किया।

एसआइ राममेहर ने बताया कि छापेमारी के दौरान फैक्ट्री में अलग-अलग प्रकार के ग्रीस के कई ड्रम मिले तो वहीं व्हाइट ऑयल, रिफाइंड ऑयल व ट्रासंफार्मर ऑयल से भरे ड्रम भी मिले। साथ ही गोदाम से टॉस्कन रेड जैल, हेयर ऑयल, वेल्वोमेक्स रेड जैल के लेबल, पेकिग किया हुआ ग्रीस व ऑयल का स्टाक भी मिला बरामद किया गया। इस संबंध में आरोपित संचालक लाइसेंस पेश नहीं कर सका। एसआइ ने बताया कि आरोपित ने लेबल भी अपने स्तर के तैयार कराए हुए थे और इनके आधार पर ही ग्रीस व तेल बाजार में बेचकर धोखाधड़ी करता रहा। कार्रवाई देर रात तक जारी रखी और सभी प्रोडेक्ट के नमूने लिए गए। -----------------------

आरोपित के खिलाफ केस दर्ज कर जांच की शुरू : एसएचओ

थाना शहर एसएचओ संदीप कुमार का कहना है कि सीएम फ्लाईग के एसआइ राममेहर की शिकायत पर आरोपित फैक्ट्री व गोदाम संचालक के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज कर लिया गया है। फिलहाल तमाम पहलुओं से पूरे मामले की जांच की जा रही है। वहीं वाणिज्य विभाग के सहायक निदेशक सचिन कुमार का कहना है कि मुख्य कार्रवाई सीएम फ्लाईग ने ही की है जबकि उनकी ओर से विभागीय कार्रवाई की गई है। शुक्रवार को भी यहां उनके साथ पॉल्यूशन बोर्ड की टीम ने भी निरीक्षण किया, जिसकी रिपोर्ट तैयार की जाएगी।

Edited By: Jagran