- कहीं हनी ट्रैप की आड़ में तो कहीं योजनाबद्व वारदातों को अंजाम दे रहे बदमाश जागरण संवाददाता, करनाल : हाइवे पर लूट गिरोह सक्रिय हो रहा है, जो वाहन चालकों को अपना निशाना बना रहा है। कहीं हनी ट्रैप की आड़ में वाहन चालकों को लूटा जा रहा है तो कहीं बदमाश योजनाबद्व तरीके से वारदात को अंजाम दे रहे हैं। नेशनल हाइवे नंबर 44 व स्टेट हाइवे बदमाश कई वारदात कर चुके हैं। हालांकि पुलिस गिरोह होने से इंकार कर रही है, लेकिन पिछले दो माह के दौरान ही कई वारदातें हो चुकी हैं, जिनमें तीन से चार लोग तक शामिल पाए गए हैं। बॉक्स

केस नंबर एक

नेशनल हाइवे नंबर 44 पर वीरवार को ही कार चालक भूपेन चौधरी से एक महिला ने लिफ्ट ली। हालांकि पहले उसने कुछ दूरी तक ही छोड़ देने को कहा तो बाद में उसे कर्ण लेक तक जाने को कहा। कार चालक के अनुसार वहां जाते ही दो बाइक सवार युवक भी पहुंच गए और उन्होंने उसके साथ मारपीट कर सोने की चेन छीन ली। उन्होंने पुलिस कंट्रोल रूम में सूचना दी तो सदर एसएचओ बलजीत सिंह भी पहुंचे। हालांकि मामला सिटी थाने का पाया गया, लेकिन शुक्रवार देर रात तक भी पुलिस मामले के आरोपितों को काबू नहीं कर पाई। बॉक्स

केस नंबर दो

14 जनवरी को ही हांसी रोड पर एक महिला ने पहले रेलवे स्टेशन तक प्रोपर्टी डीलर संजय कपूर से कार में लिफ्ट ली और फिर उसे प्लाट दिलाने की बात की। उसी समय उसे प्लाट दिखाने को कहा तो वह उसे पाल नगर ले गया, जहां प्लाट दिखाया। तभी दो युवक भी वहां पहुंच गए और उसकी अंगूठी व कार की चाबी छीनकर तीनों फरार हो गए थे। पुलिस आज तक भी आरोपितों तक नहीं पहुंच पाई है। केस नंबर तीन

निसिग वासी सचिन 13 जनवरी को सेक्टर आठ से नई अनाजमंडी की ओर स्कूटी पर सवार होकर जा रहा था। अनाजमंडी के समक्ष हाइवे के पुल के नीचे पहुंचा तो वहां बाइक सवार तीन युवकों ने उसे घेर लिया और मारपीट करते हुए 14 हजार 500 रुपये छीन लिए थे। पुलिस ने अज्ञात आरोपितों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया था। हालांकि सेक्टर चार पुलिस चौकी टीम ने करीब दस दिन बाद ही इस वारदात के दो आरोपितों को सेक्टर 16 के समीप रहने वाले सुनील कुमार व खेड़ा कालोनी के अनिल कुमार को काबू कर लिया था तो उनसे 4400 रुपये की नकदी भी बरामद कर ली थी। पुलिस के मुताबिक अनिल कुमार के खिलाफ पहले भी आपराधिक मामला चल रहा है। केस नंबर चार

बहादुरगढ़ वासी सुनील कुमार 26 दिसंबर को तरावड़ी के समीपवर्ती गांव तखाना के पास नेशनल हाइवे 44 पर स्थित एक दुकान पर चाय पीने लगा था। तभी एक गाड़ी में सवार बदमाश पहुंचे और उससे गाड़ी के साथ-साथ दस हजार रुपये की नकदी भी छीन ली। वे उसे भी अपनी गाड़ी में बंधक बनाकर ले गए और शामगढ़ के पास उसे मोबाइल सहित छोड़कर फरार हो गए थे। पुलिस अभी भी इस मामले की जांच में ही जुटी है। बॉक्स

बदमाशों पर पुलिस की पैनी नजर : बलजीत

सदर एसएचओ बलजीत सिंह का कहना है कि फिलहाल हनी ट्रैप के जरिए लूट का कोई विशेष मामला सामने नहीं आया है, लेकिन अन्य वारदातें अवश्य हुई हैं। इनमें पुलिस ने कई बदमाशों को काबू भी किया है। पुलिस हाइवे पर वारदातों को अंजाम देने वाले बदमाशों पर पैनी नजर रखे हुए है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस