000 कोरोना से 30 लोगों की मौत के आंकड़े पर गंभीर नहीं जिला प्रशासन

000 एक दिन में 164 मरीजों में संक्रमण पाए जाने के साथ 828 लोग एक्टिव

जागरण संवाददाता, करनाल : जिले में कोरोना मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी हो रही है। प्रशासन की लचर व्यवस्था के कारण रविवार को जिले में रिकॉर्ड 164 मामले सामने आए हैं। कमजोर व्यवस्था के कारण अस्पतालों में जगह की कमी दर्शाई जा रही है और आसपड़ोस की चिता न कर अधिकतर मरीजों को होम क्वारंटाइन किया जा रहा है। इसी के चलते स्वास्थ्य विभाग की ओर से मिली जानकारी के अनुसार कोरोना वायरस संक्रमण से संदिग्ध कुल 49158 व्यक्तियों के सैंपल लिए गए, इनमें 45604 की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। 2770 मामले पॉजिटिव हैं जबकि अब तक 30 मरीजों की मृत्यु हो चुकी है। 30 लोगों की मौत होने के बावजूद इन आंकड़ों पर के कारण गंभीरता नहीं दिखा रहे हैं। नतीजतन रविवार को 164 केस पॉजिटिव आने के बाद 828 एक्टिव हो गए हैं। बेशक प्रशासन 1911 मरीजों के ठीक होने का दावा कर रहा है लेकिन कोरोना को जड़ से खत्म करने के लिए सरकारी कार्यालयों में किसी तरह के जागरूकता आधारित गतिविधियों का आयोजन नहीं हो रहा है। आशा वर्कर्स के भरोसे स्वास्थ्य विभाग की टीम एसी कमरों में ठंडक लेने में व्यस्त है। जबकि जूनियर कर्मचारियों को टेस्टिग में लगाया जा रहा है। उपायुक्त की मानें तो अधिकतर शहरवासियों को बिना काम घर से बाहर न निकलने के लिए लगातार जागरूक किया जा रहा है। बावजूद सड़कों पर भीड़ कम नहीं हो रही है। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों से बातचीत कर संक्रमण को रोकने के लिए सख्त कदम उठाए जाएंगे। उन्होंने बताया कि जिन लोगों में कोरोना संक्रमण के लक्षण नहीं पाये जाते है, उन्हें अस्पताल में रखने की बजाए नीलोखेड़ी के नजदीक स्थित गुरूकुल में स्थापित किये गए कोविड केयर सेंटर में रखा जाता है। बॉक्स

जुंडला में तीन संक्रमित

फोटो 18

संवाद सूत्र, मुनक/जुंडला : कस्बा में तीन नए कोरोना संक्रमित सामने आए हैं। पीएचसी जुंडला से डा. अजय मिर्धा ने बताया कि कमोपुरा, जांगड़ा मेन बाजार में रहने वाले दो व्यक्ति और एक महिला पॉजिटिव पाए गए हैं। तीनों को होम क्वारंटाइन किया गया है। एमपीएचडब्लयू मेहर सिंह, लाजवंती, आशा वर्कर सीमा, ममतेश, मीना, सीना, सुमन, लक्ष्मी, बबीता, सुनीता, मनोज पटवा महामारी के प्रति लोगों को जागरूक कर रहे हैं। पुलिस चौकी प्रभारी एसआइ सुखपाल ने कहा कि जुंडला में कोरोना के पॉजिटिव केस सामने आए हैं। उन्होंने कहा कि बढ़ते कोरोना मरीजों के पीछे आमजन की लापरवाही कारण बनी हुई है। चौकी प्रभारी ने कहा कि कुछ लोग इस बीमारी को हल्के में लेकर अपनी और दूसरों की सुरक्षा को खतरे में डाल रहे हैं। बॉक्स----

बाजार बंद ने करने का फैसला सही : डा. बलदेव सिंह

फोटो 33

संवाद सूत्र, निसिग : फैलते कोरोना के मद्देनजर सरकार ने सोमवार व मंगलवार को बाजार बंद का निर्णय लिया गया था। दुकानदारों ने जगह-जगह सरकार के इस फैसले का विरोध किया। परिणाम स्वरूप प्रदेश सरकार ने आदेश वापस ले लिए। पूर्व नगरपालिका चेयरमैन डा. बलदेव सिंह बरियार ने इसे सही फैसला बताया। दुकानदार रामजवारी शर्मा, जयप्रकाश शर्मा, जयभगवान, प्रदीप हथलाना, तरूण अमुपुर, रामनिवास गोयल, सुखेदव बस्तली ने भी संतोष जताया।

Edited By: Jagran