संवाद सहयोगी, इंद्री: सड़कों पर धान से लदे ट्रैक्टर-ट्रालियों की लाइनें लगीं रहीं। शहर में दिनभर जाम के हालात रहे। रोज सड़कें धान से लदे ट्रैक्टर-ट्रालियों से फुल हो जाती हैं। मंडी के गेट से कई किलोमीटर तक ट्रैक्टर-ट्रालियों की लाइनें लगती हैं। किसान रात को ही मंडी का रुख कर लेते हैं और सुबह ही करनाल-यमुनानगर स्टेट हाईवे पर भी कई किलोमीटर तक लाइन लग जाती है। दिनभर लाइन लंबी होने का सिलसिला जारी रहा। कई किसानों ने आरोप लगाया कि सरकार की गलत नीतियों के चलते किसानों को परेशान होना पड़ रहा है।

-------------------

किसान संजीव कुमार का कहना है कि सरकार की नीतियां किसान हित में नहीं हैं। मंडी में धान खरीद व उठान सही नहीं होने से किसान परेशान हैं और अपना धान लेकर सड़कों पर दिनरात खड़े होने को मजबूर हैं। दो-तीन दिन एक ट्राली मंडी में खाली करने में लग जाते हैं। वह अल सुबह तीन बजे नहर के पुल के पास लाइन में लगा था और 10-11 घंटे लाइन में लगने के बाद भी ट्रैक्टर-ट्राली मंडी गेट तक नहीं पहुंची।

-----------------

किसान तारीफ सिंह ने कहा कि किसानों को परेशान किया जा रहा है। फसल बेचने के लिए दिनरात सड़कों पर मजबूर होना पड़ रहा है। गेट पास काटने के लिए मंडी के ओर गेट खोलने की व्यवस्था भी की जा सकती है। वह भी रात से ही लाइन में लगा है लेकिन घंटों बाद भी उसकी एंट्री मंडी में नहीं हो पाई।

मंडियों में हो रही धान की बेकद्री : राजेंद्र बल्ला

हरियाणा कांग्रेस कमेटी के सदस्य राजेंद्र बल्ला ने धान खरीद में सरकार द्वारा लापरवाही बरते जाने पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि यह सरकार किसानों को बर्बाद करने में कोई कसर नही छोड़ना चाहती। अधिकारी मिलीभगत करके सरेआम हरियाणा के किसानों के साथ धोखा कर रहे हैं। सरकार ने डिजीटल प्रक्रिया में किसानों को उलझाने का काम किया है। अन्नदाता करनाल जिले की मंडियों में अपनी धान को नहीं बेच पा रहा है, क्योंकि सरकार डिजीटल बेईमानी कर रही है। जब से हरियाणा में धान की खरीद शुरू हुई है, किसानों को दिन-रात सड़कों पर ही काटने पड़ रहे हैं। अधिकारी बहाने बनाकर किसानों को परेशान कर रहे हैं। कभी गेट पास नहीं काटे जाते, कभी नमी का बहाना बनाकर किसानों की धान को खरीदने से मना कर दिया जाता है। राजेंद्र बल्ला ने कार्यकर्ताओं के साथ तरावड़ी, निसिग और नीलोखेड़ी अनाज मंडी का दौरा किया। किसानों ने कांग्रेस नेता को बताया कि किस प्रकार से उन्हें परेशान किया जा रहा है। राजेंद्र बल्ला ने कहा कि भाजपा-जजपा गठबंधन सरकार किसानों का शोषण करने के लिए रोज नए रास्ते तैयार कर रही है। यह सरकार कभी किसानों का भला नहीं होने देगी।

Edited By: Jagran