जागरण संवाददाता, करनाल : श्री गुरु ग्रंथ साहेब रिसर्च एंड चेरीटेबल ट्रस्ट व सामाजिक संस्था नेशनल इंटेग्रेटेड फ़ोरम आफ आर्टिस्ट्स एंड एक्टिविस्टस (निफा) की ओर से आयोजित निशुल्क फिजियोथेरपी शिविर का उद्घाटन गुरुद्वारा मंजी साहेब के मुख्य ग्रंथी भाई जोगा सिंह ने किया।

गुरु हरकृष्ण पब्लिक स्कूल में आयोजित शिविर में बताया गया कि 10-15 ह•ार रुपये में होने वाली फि•िायिोथेरपी की सुविधा अब करनाल में निश्शुल्क मिलेगी। यह कदम महान बलिदानी गुरु तेग बहादुर के 400वें प्रकाश पर्व के उपलक्ष में उठाया गया है। इससे पूर्व श्री सुखमनी साहेब के पाठ के बाद अरदास की गई। वाहेगुरु से मानवता की भलाई के इस कार्य में सफ़लता की प्रार्थना की गई। इस अवसर पर गुरुनानक सेवक जत्थे से रजिदर सिंह मिड्डा, शिरोमणि गतका फ़ेडरेशन आफ इंडिया के प्रधान गुरतेज सिंह खालसा, विद्यालय की निदेशक कल्पना, पूर्व •ालिा खेल अधिकारी गुरमीत कपूर, निफ़ा के •ालिा सचिव हितेश शर्मा, उपिन्दर सिंह, गुरपाल सिंह आदि उपस्थित रहे।

संस्था के मुख्य ट्रस्टी जसबीर सिंह गुलाटी ने बताया कि यह शिविर गुरु नानक देव जी के तेरा तेरा के सिद्धांत पर आधारित है। जिस प्रकार गुरुजी ने 20 रुपये से लंगर प्रथा शुरू की, उसी प्रकार शिविर में भी मात्र 20 रुपए लेकर अत्याधुनिक मशीनों से फिजियोथेरेपी की जाएगी। शिविर 25 मार्च तक प्रतिदिन सुबह 9 से शाम 5 बजे तक चलेगा। निफा अध्यक्ष प्रीतपाल सिंह पन्नु ने कहा कि भागदौड़ भरी जिंदगी में सर्वाइकल पेन, घुटनों व रीढ़ की हड्डी के दर्द, कोहनी व एड़ी के दर्द ओर लकवा जैसी अनेक कष्टकारी बीमारियां बढ़ी हैं। महंगे इलाज के चलते अक्सर लोग दर्द निवारक गोलियां खाते रहते हैं। मुख्य फिजियोथेरेपिस्ट डा. ज्योति शर्मा ने बताया कि शिविर में अत्याधुनिक मशीनों से इलाज किया जाएगा। विशेष तौर पर लेजर तकनीक से इलाज के लिए 12 वाट की मशीन मंगाई गई है। महिलाओं के इलाज के लिए अलग केबिन हैं। उन्होंने करनालवासियों से शिविर का लाभ उठाने की अपील की।

Edited By: Jagran