- मौसम विभाग के मुताबिक सितंबर में हर साल होती थी बरसात

- इस माह अब तक नहीं गिरी कोई बूंद, संभावना भी नहीं बन रही जागरण संवाददाता, करनाल

प्रदेश में संभवत: ऐसा पहली बार हो रहा है कि सितंबर माह बिना बरसात के ही बीत रहा हो। इस माह के 20 दिन बीत चुके हैं, लेकिन एक भी बूंद बरसात की नहीं हुई है। पिछले 10 साल के रिकार्ड पर नजर दौड़ाई जाए तो कोई भी साल ऐसा नहीं है जिसमें सितंबर माह में बरसात ना हुई हो। इस माह बरसात नहीं होने से गर्मी व उमस तो बढ़ी है, लेकिन कृषि की दृष्टि से देखा जाए तो इस समय बरसात होना भी किसानों के लिए खतरे से खाली नहीं है क्योंकि धान का सीजन शुरू हो चुका है। 25 अक्टूबर से धान की सरकारी खरीद भी शुरू हो जाएगी। इस समय धान की किस्म 1509 तैयार हो चुकी है। कई जगह पर अगेती किस्म उठा भी ली गई है। जाहिर है कि इस समय बरसात होने से धान की फसल को भारी नुकसान हो सकता है। रविवार को यह रहा मौसम का हाल

रविवार को अधिकतम तापमान 34.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। वहीं न्यूनतम तापमान 25.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। सुबह के समय नमी की मात्रा 95 फीसदी दर्ज की गई, जो शाम को घटकर 70 फीसदी रह गई। हवा 3.8 किलोमीटर प्रतिघंटा की गति से चली। केंद्रीय मृदा लवणता अनुसंधान संस्थान के मुताबिक आने वाले 24 घंटे में मौसम साफ रहेगा। पिछले 12 साल में सितंबर में बरसात की स्थिति

वर्ष बरसात एमएम में 2008 92.4 2009 215.1 2010 348.8 2011 93.0 2012 94.9 2013 12.8 2014 229.7 2015 46.8 2016 21.6 2017 226.2 2018 318.7 2019 212.1 2020 00.0

नोट : ये आंकड़े मौसम विभाग की ओर से जारी किए गए हैं।

Edited By: Jagran