संवाद सहयोगी, इंद्री: शहीद ऊधम सिंह राजकीय महाविद्यालय मटक माजरी में युवक की ओर से फायर से दहशत फैल गई। गनीमत रही कि गोली किसी को नहीं लगी और बड़ी वारदात होने से बच गई। फायर करने के बाद आरोपित युवक मौके से फरार हो गए। फिलहाल स्पष्ट नहीं हो पाया कि किसने और क्यों गोली चलाई।

सोमवार को अचानक प्राचार्य के कार्यालय से कुछ दूरी पर किसी ने फायर कर दिया। गोली चलने की आवाज सुनकर कॉलेज में दहशत फैल गई। पुलिस ने जांच के दौरान जमीन में गोली लगने की जगह को चिह्नित किया। प्राचार्य सतीश भारद्वाज का कहना है कि वे भी कॉलेज स्तर पर जांच कर रहे हैं। फिलहाल यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि फायर करने वाले युवक कॉलेज के छात्र थे या बाहरी । पता चला है कि कुछ युवक कॉलेज में खड़े थे और उनमें से एक युवक ने फायर कर दिया। आरोपितों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। एसएचओ सतपाल सिंह का कहना है कि कि सुबह सूचना मिली थी कि शहीद उधम सिंह राजकीय महाविद्यालय में बाहरी कुछ लड़कों ने फायर कर दिया। पुलिस ने घटनास्थल पर जांच पड़ताल कर रही है। कॉलेज के सीसीटीवी ठप

राजकीय महाविद्यालय मटकमाजरी इंद्री के कई सीसीटीवी कैमरे ठप हैं, लेकिन जिस जगह वारदात हुई वहां एक कैमरे की फुटेज में कुछ युवक नजर आ रहे हैं यदि कॉलेज के अंदर सभी सीसीटीवी चले होते तो शायद पूरी वारदात का खुलासा हो सकता था। आरोपित बाहरी होने की आशंका

कॉलेज प्रशासन कोविड-19 का हवाला देकर अभी तक विद्यार्थियों के आइकार्ड नहीं जारी किए जाने की बात भी सामने आई है। ऐसे में कोई भी बाहरी व्यक्ति कॉलेज में वारदात को अंजाम दे सकता है क्योंकि बाहरी तत्व आसानी से कॉलेज में प्रवेश कर सकते हैं। आमने-सामने हुए दो गुट

बताया जा रहा है कि सोमवार को कॉलेज परिसर में युवकों के दो गुट आमने-सामने हो गए और सामने खड़े गुट में से एक युवक ने फायर कर दिया जिससे दहशत फैल गई। अभी यह पता नहीं चल पाया है कि फायर करने वाले युवक कॉलेज के छात्र थे या बाहरी। वहीं पुलिस ने प्राथमिक जांच में युवकों को बाहरी बताया है।

Edited By: Jagran