संवाद सहयोगी, घरौंडा: हसनपुर रोड पर रजबाहे से साथ लगते गड्ढों से पुलिस ने महिला का क्षत-विक्षिप्त शव बरामद किया है। गड्ढे से निकाले गए शव का चेहरा खराब अवस्था में होने की वजह से मृत महिला की पहचान नहीं हुई। मौके के हालात देखकर पुलिस ने आशंका जताई कि शव करीब बीस दिन पुराना हो सकता है। घटनास्थल के आसपास शराब की बोतलें और आपत्तिजनक सामग्री भी बिखरी हुई मिली है। पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

वीरवार को घरौंडा पुलिस को सूचना मिली कि लिबर्टी फैक्ट्री के पीछे गंदे पानी से भरे गड्ढों में एक शव पड़ा है। सूचना मिलने के बाद सब इंस्पेक्टर सुल्तान सिंह अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंचे। करीब छह फीट गहरे गड्ढे में पड़ा हुआ शव एक महिला का था, जिसके शरीर के अधिकतर अंग बुरी तरह से सड़ चुके थे। बेहद खराब हालत में पड़े इस शव को बाहर निकालने के लिए पुलिस को काफी मशक्कत करनी पड़ी। प्लास्टिक के कट्टों के जरिये शव को बाहर निकाला गया, जिसके बाद पता चला कि शव महिला का है। लेकिन शव का सिर गायब होने के कारण मृतक की पहचान नहीं हो सकी। पुलिस के अनुसार महिला ने स्वेटर पहना हुआ था। ऐसे में आशंका यह है कि यह घटना करीब बीस दिन पहले की रही होगी। पुलिस शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए करनाल भेज दिया। मौके पर बिखरी मिली आपत्तिजनक सामग्री

जिस जगह से पुलिस ने अज्ञात महिला का शव बरामद किया है, उसके आसपास से आपत्तिजनक वस्तुएं पड़ी हुई पाई गईं। घटना स्थल पर शराब की खाली बोतलें, डिस्पोजल गिलास और कुछ आपत्तिजनक सामग्री के खाली पैकेट पड़े मिले हैं। आशंका जाहिर की जा रही है कि इस स्थान पर अनैतिक गतिविधियां चल रही थीं। वहीं गड्ढे से निकाले गए महिला के शव के बाएं हाथ पर गोल्डन रंग की घड़ी बंधी थी जो चलती अवस्था में मिली है। शव की पहचान के लिए पुलिस बीते दो तीन माह में गायब हुई महिलाओं केमामलों को खंगालने में जुट गई है। शिनाख्त के लिए ऐसे परिवारों से सम्पर्क किया जा रहे है, जिन्होंने किसी महिला की गुमशुदगी की शिकायत पुलिस में दर्ज करवाई हो। वर्जन

अज्ञात महिला का शव बरामद हुआ है। चेहरा खराब होने की वजह से शव की पहचान नहीं हुई है। शव कब्जे में लिया गया है, पुलिस मामले की गहनता से छानबीन कर रही है।

मोहन लाल, थाना प्रभारी घरौंडा

Edited By: Jagran