जागरण संवाददाता, करनाल : सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के माध्यम से चलाए जा रहे नशा मुक्त भारत अभियान के तहत गतिविधियां जारी हैं। इसी क्रम में विकलांग अधिकार कल्याण समिति के सहयोग से दिव्यांगजनों ने जागरूकता रैली निकालकर आम जनता को नशे से दूर रहने के लिए जागरूक किया।

इस जागरूकता रैली को असंध के एसडीएम एवं नशा मुक्त भारत अभियान के जिला नोडल अधिकारी साहिल गुप्ता ने वीरवार को पंचायत भवन से हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। एसडीएम ने कहा कि भारत सरकार द्वारा युवाओं को नशा जैसी सामाजिक बुराई से दूर रहने तथा इससे छुटकारा दिलवाने के उद्देश्य से नशा मुक्त भारत अभियान चलाया हुआ है। प्रदेश के 10 जिलों में करनाल भी शामिल है। जिलास्तरीय नशा मुक्त भारत अभियान समिति के अध्यक्ष एवं उपायुक्त निशांत कुमार यादव के निर्देश पर अभियान को लेकर गतिविधियां जारी हैं, जिसके तहत खंड स्तर पर सेमिनारों का आयोजन तथा शिक्षण संस्थाओं में अन्य प्रकार की गतिविधियां शामिल हैं। आम जनता के सहयोग से जागरूकता रैली भी निकाली जा रही है। साहिल गुप्ता ने कहा कि नशा एक ऐसी बुराई है जिससे न केवल इंसान का व्यक्तिगत नुकसान होता है बल्कि समाज को भी इसका खामियाजा भुगतना पड़ता है। अंडर ट्रेनी एचसीएस अधिकारी जितेंद्र जोशी ने कहा कि आम जनता में नशे जैसी सामाजिक बुराई के खिलाफ जन चेतना लाने का प्रशासन का प्रयास जारी है। इस सामाजिक आंदोलन में दिव्यांगजनों द्वारा जागरूकता रैली निकालना अपने आप में एक सराहनीय कदम है। जिला समाज कल्याण अधिकारी सत्यवान ढिलौड़ ने बताया कि विकलांग कल्याण अधिकार समिति की इकाई ब्लॉक स्तर पर भी गठित है। इनका वहां पर भी सहयोग लिया जाएगा। समिति के प्रदेश अध्यक्ष चरण सिंह ने नशे के विरूद्ध चलाए जा रहे जिला प्रशासन के कार्य की सराहना की।

Edited By: Jagran