संवाद सहयोगी, असंध : नई अनाज मंडी में मांगों को लेकर दिए जा रहे धरने के तीसरे दिन किसानों ने सड़क पर डालकर जीरी को आग लगा दी। किसानों ने सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। किसानों के रोष पर एसडीएम साहिल गुप्ता मार्केट कमेटी कार्यालय पहुंचे और किसानों के शिष्टमंडल को बुलाया। बैठक के दौरान किसानों ने एसडीएम के समक्ष अपनी मांगें रखी। एसडीएम साहिल गुप्ता ने किसानों को आश्वासन दिया कि एक बार में जितनी धान किसान चाहे ला सकेगा। वहीं 21 प्वाइंट नमी तक की धान की सरकारी खरीद करने का आश्वासन और 30 घंटे तक बिकी हुई धान का उठान होगा। इस पर किसानों ने खरीद चालू करवाने का फैसला लिया। बाद में इससे आढ़ती एसोसिएशन बिफर गई। इसके बाद आढ़ती एसोसिएशन के प्रधान बनारसी दास मितल की अध्यक्षता में लगभग 25 आढ़तियों ने एसडीएम साहिल गुप्ता से बैठक कर मांग की कि अगर 30 घंटे तक उठान नहीं होगा तो आढ़ती की जिम्मेदारी नहीं होगी। आढ़तियों ने कहा कि वे इस बार घटती नहीं देंगे। इस पर एसडीएम ने 30 घंटे में उठाने का आश्वासन दिया। किसानों के धरने में जगदीश सिंह झींडा, जीवन सिंह, छत्रपाल सिधड़, रामकुमार, सतबीर कामरेड़, सुखविद्र झब्बर, अनिल जयसिंहपुर, सेवा सिंह, उदय सिंह, फतेह सिंह शामिल रहे।

Edited By: Jagran