जागरण संवाददाता, करनाल : सिटीजंस ग्रीवेंस कमेटी की कानून व्यवस्था उप समिति की बैठक चेयरमैन सत्येंद्र मोहन कुमार की अध्यक्षता में मानव सेवा संघ में हुई। बैठक में शहर में बढ़ रही चोरी, लूट और अन्य आपराधिक घटनाओं पर चिता व्यक्त की गई। यातायात व्यवस्था और ई रिक्शा संचालन पर भी चर्चा हुई। शहर के मुख्य चौराहों और बाजारों में अतिक्रमण को लेकर बातचीत की गई। मीटिग में कहा गया कि शहर में बहुत अधिक संख्या में ई-रिक्शा बिना रजिस्ट्रेशन चल रही हैं। ऐसे में अगर कोई वारदात होती है तो उसकी जानकारी पुलिस कैसे जुटा पाएगी। नंबर न होने के कारण ई-रिक्शा का चालान भी नहीं हो सकता।

बैठक में कहा गया कि नई सब्जी मंडी की ओर अलसुबह जाते समय वारदात का खतरा बना रहता है । पुलिस को इस ओर ध्यान देना चाहिए। यातायात व्यवस्था के प्रति बच्चों को जागरूक करने के लिए कंट्रोल रूम का भ्रमण करवाना चाहिए। मीटिग में यह भी कहा गया कि पुरानी सब्जी मंडी में पार्किंग व्यवस्था को लेकर नगर निगम को स्थिति स्पष्ट करनी चाहिए। वहां सब्जी फ्रूट वालों की रेहड़ियां लग रही हैं। सवाल स्वाभाविक है कि पार्किंग व्यवस्था कैसे सुचारू होगी। इस अवसर पर संरक्षक प्रमोद गुप्ता, सलाहकर एलआर चुचरा, उप समिति प्रधान निरुपमा सदर, सचिव विपिन शर्मा, केपी सिंह, वाइस चेयरमैन आदित्य बंसल, गुरमीत सिंह, नरेंद्र सुखन, राम लाल अग्रवाल, कृष्ण लाल तनेजा, प्रेम सेठी, प्रियंका कठपाल, संतोष अत्रेजा, भारत भूषण चोपड़ा, उपभोक्ता संरक्षण उप समिति के सचिव संजय बत्रा, एसडी अरोड़ा, मनोहर कृष्ण डुडेजा, कोऑर्डिनेटर रजनीश चोपड़ा मौजूद रहे। इस चिंता का उद्ेश्य हादसों को रोकना था।

Edited By: Jagran