मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

जागरण संवाददाता, करनाल : इग्नू के क्षेत्रीय केंद्र करनाल का 32वां दीक्षांत समारोह बुधवार को सीएसएसआरआइ के ऑडिटोरियम में हुआ। इसमें प्रदेश भर से विद्यार्थी पहुंचे। कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर कैलाश चंद्र शर्मा ने बतौर मुख्यातिथि शिरकत की। क्षेत्रीय निदेशक डॉ. पूनम कुमारी सिंह व सहायक क्षेत्रीय निदेशक डॉ. धर्मपाल व डॉ. अमित कुमार जैन ने मुख्यातिथि का पुष्प गुच्छ देकर स्वागत किया। इग्नू की क्षेत्रीय निदेशक डॉ. पूनम कुमारी सिंह ने क्षेत्रीय केंद्र करनाल की प्रगति रिपोर्ट पेश की। उन्होंने बताया की इग्नू क्षेत्रीय केंद्र करनाल के अंतर्गत कुल 33230 विद्यार्थियों को डिग्री पाने योग्य पाया गया है। उन्होंने विद्यार्थियों को उनके सुनहरे भविष्य के लिए शुभकामनाएं दी।

मुख्यातिथि डॉ. कैलाश चंद्र शर्मा ने बताया की किसी भी देश की शिक्षा नीति उस राष्ट्र की आधारशिला होती है। शिक्षा से ही जीवन स्तर ऊंचा उठाया जा सकता है उन्होंने इग्नू की दूरस्थ शिक्षा प्रणाली की प्रशंसा करते हुए बताया की दूरस्थ शिक्षा का माध्यम ही मात्र केवल ऐसा साधन है जिसके द्वारा देश के हर व्यक्ति को उच्च शिक्षा से जोड़ा जा सकता है। कार्यक्रम के अंत में सहायक क्षेत्रीय निदेशक डॉ. अमित कुमार जैन ने मुख्यातिथि, विभिन्न संस्थानों से आए आए विद्वानों व सीएसएसआरआइ स्टाफ का आभार व्यक्त किया।

इस अवसर पर रोबिन वर्मा, किरण सचदेवा, राजीव दिलौरी, शिशुपाल, राजेंद्र सिंह, सुनील कुमार, जगबीर सिंह, मोहन सिंह, रणबीर सिंह, सुशील कुमार, अमन कुमार व बबलू मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप