संवाद सहयोगी, घरौंडा : नगरपालिका के दो पार्षद चुनाव नामांकन प्रक्रिया में फर्जी दस्तावेज प्रयोग करने के आरोपों में घिरे हैं। जिला उपायुक्त के निर्देशों पर एसडीएम डा. पूजा भारती मामले की जांच कर रही है। जांच में शामिल वार्ड पांच की महिला पार्षद ने अपने दस्तावेज एसडीएम के समक्ष प्रस्तुत कर दिए हैं। जबकि आरोपों में घिरे वार्ड संख्या दो की पार्षद ने अभी तक अपने कागजात नहीं दिए हैं। पूर्व नपा अध्यक्ष सुभाष गुप्ता भी पार्षदों के फर्जी दस्तावेजों के मामले को उठा चुके हैं।

बीते वर्ष फरवरी माह में अध्यक्ष की कुर्सी को लेकर पार्षदों के बीच चली खींचतान के दौरान फर्जी दस्तावेजों के इस्तेमाल का मामला उजागर हुआ था। पूर्व अध्यक्ष सुभाष गुप्ता ने बागी खेमे में शामिल हुई वार्ड दो पार्षद बबली देवी और वार्ड पांच की पार्षद नीलम सिगला पर अपने चुनाव नामांकन में झूठे प्रमाणपत्र प्रयोग करने का आरोप लगाया था। सुभाष गुप्ता ने दोनों पार्षदों के खिलाफ जांच और कार्रवाई को लेकर जिला उपायुक्त को शिकायत दी थी। डीसी के निर्देशों पर एसडीएम ने दोनों पार्षदों को अपने मूल दस्तावेज प्रस्तुत करने के आदेश दिए। मार्च महीने में लागू हुए लॉकडाउन के कारण पार्षदों ने दस्तावेज प्रस्तुत करने में असमर्थता जाहिर की और करीब पांच माह यह तक यह जांच प्रक्रिया अटक गई। बीते सप्ताह पार्षद नीलम सिगला ने अपने प्रमाणपत्र एसडीएम को सौप दिए है। हालांकि पार्षद बबली देवी के दस्तावेजों की जांच अभी नहीं हुई है। कौन से दस्तावेजों पर उठे सवाल

इस मामले में हुई शिकायत के अनुसार पार्षद नीलम सिगला द्वारा नोमिनेशन में लगाए गए 8वीं कक्षा के प्रमाणपत्र पर सवाल उठे थे। नोमिनेशन में नीलम ने दिल्ली के सरकारी स्कूल की एसएलसी लगाईं थी जिसे फर्जी बताया गया था। वही वार्ड दो की पार्षद बबली देवी पर नामांकन ़फार्म में फर्जी वोट संख्या का प्रयोग करने व मृत महिला के वोटर कार्ड पर चुनाव लड़ने के आरोप लगे थे। नीलम सिगला का कहना है कि उसके द्वारा लगाये गए सभी प्रमाण-पत्र असली है, उसने वर्ष 1988-89 में दिल्ली के सरस्वती विहार के सरकारी स्कूल से आठंवी कक्षा पास की थी। उस समय आठवीं का बोर्ड नहीं था इसलिए उसने स्कूल से प्राप्त हुए रिजल्ट की कॉपी एसडीएम को दे दी है। जिला उपायुक्त की तरफ से नगरपालिका की पार्षद नीलम सिगला व रीना के दस्तावेजों की जांच के संबंध में निर्देश मिले थे। नीलम सिगला ने अपने प्रमाणपत्रों के बारे में जानकारी दे दी है। पार्षद बबली देवी की तरफ से अभी कोई दस्तावेज नहीं दिया गया है। जांच की जा रही है तथ्यों के आधार पर कार्रवाई की जाएगी।

डा. पूजा भारती एसडीएम घरौंडा

Edited By: Jagran