जागरण संवाददाता, करनाल : जिले में कोरोना वैक्सीन टीकाकरण को लेकर स्वास्थ्य विभाग तैयार है। पहले चरण में रजिस्टर्ड स्वास्थ्यकर्मियों का टीकाकरण होगा। जनता में वैक्सीन टीका लगाने के संदेश के तौर पर उच्चाधिकारियों को भी टीका लगाया जाएगा। शनिवार को राजकीय कल्पना चावला मेडिकल अस्पताल, नागरिक अस्पताल करनाल, पार्क अस्पताल, सीएचसी घरौंडा, सीएचसी कुंजपुरा में की जाएगी। जिले के अन्य सामुदायिक केंद्रों में टीकाकरण की योजना तैयार कर ली गई है। केंद्रों में प्रथम चरण में टीकाकरण के लिए रजिस्ट्रेशन किया जा चुका है, जिसकी अगले एक सप्ताह में शुरुआत की जाएगी। व्यवस्थाओं का लिया जायजा

स्वास्थ्य विभाग की ओर से वैक्सीन की सुरक्षा को लेकर जागरूक किया जा रहा है। सिविल सर्जन डा. योगेश शर्मा ने केंद्रों की जांच की और दिशा-निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि वैक्सीनेशन के समय कोई असुविधा न हो, इसके लिए ड्राइ रन किया जा चुका है। वैक्सीन का कोई गंभीर साइड इफेक्ट नहीं है। नासमझ लोग भ्रांतियां फैला सकते हैं। स्वास्थ्य कर्मचारियों व आंगनवाड़ी वर्करों की मदद से जागरूकता बढ़ाएंगे। पंचायतों और जनप्रतिनिधियों के माध्यम से मुहिम चलेगी। स्कूली बच्चों के माध्यम से स्वास्थ्य सुरक्षा का संदेश पहुंचाया जाएगा। भ्रांति दूर करने के लिए उच्चाधिकारी भी टीकाकरण में शामिल होंगे। सात जनवरी को टीकाकरण की प्रक्रिया दोहराई थी

कल्पना चावला मेडिकल कालेज के निदेशक डा. जगदीश दुरेजा ने बताया कि सात जनवरी को ड्राई रन में टीकाकरण की हर प्रक्रिया दोहराई गई। शुरुआती सत्र में पांच सदस्यों की टीम बनी है। सबसे पहले टीका लगवाने वाले की जांच, संक्रमण बचाव की गाइडलाइन का पालना के अलावा, प्रतीक्षालय केंद्र में जागरूक किया जाएगा। इमरजेंसी होने पर अलग से चिकित्सकों की टीम मौके पर इलाज देगी। टीकाकरण के नोडल अधिकारी डा. राजेश ने बताया कि टीकाकरण की पूरी प्रक्रिया को सुरक्षित तरीके से अपनाया जाएगा। नीलोखेड़ी में भी टीकाकरण की तैयारी पूरी

फोटो 12

संवाद सूत्र, नीलोखेड़ी : कोविड-19 वैक्सीन की तैयारियों को लेकर नागरिक अस्पताल में बैठक की अध्यक्षता एसएमओ डा. अनु शर्मा ने की। ब्लॉक टास्क फोर्स गठित हुई। बीडीपीओ, सीडीपीओ, नि:स्वार्थ सोशल ट्रस्ट, भारत विकास परिषद, नगर पालिका के प्रतिनिधियों ने भाग लिया। एसएमओ अन्नू और डा. वंदना अग्रवाल ने बताया कि पहले चरण में 354 लोगों को शामिल किया गया है। इनमें 58 आशावर्कर, 64 आंगनबाड़ी वर्कर और 67 निजि चिकित्सालयों के चिकित्सक व कर्मचारी शामिल हैं। दूसरे, तीसरे व चौथे दिन 100-100 कर्मचारियों का टीकाकरण किया जाएगा। जिले में कोरोना के सात नए मामले

जिला में शुक्रवार को सात केस पॉजिटिव पाए गए जबकि आठ मरीज ठीक होकर अपने घर गए हैं। उपायुक्त निशांत कुमार यादव ने सिविल सर्जन की रिपोर्ट के अनुसार बताया कि जिले में अब तक कोरोना वायरस संक्रमण से संदिग्ध कुल 174099 व्यक्तियों के सैम्पल लिए गए, जबकि 162005 की रिपोर्ट नेगिटिव आई है। 11016 मामले पॉजिटिव हैं, जिनमें 152 मरीजों की मृत्यु हो चुकी है। 130 एक्टिव हैं और 10734 मरीज ठीक होकर अपने घर चले गए हैं। शुक्रवार को सात पोजिटिव मामलों में तीन केस एंटीजेन टेस्ट और चार केस आरटीपीसीआर से पाए गए हैं। शुक्रवार को आठ मरीज ठीक होकर अपने घर गए हैं।

Edited By: Jagran