जागरण संवाददाता, करनाल:

शहर में जलभराव की समस्या को लेकर सिटीजंस ग्रीवेंसीज कमेटी ने सप्ताहभर पहले सीएम के प्रतिनिधि संजय बठला और भाजपा जिला अध्यक्ष योगेंद्र राणा से मुलाकात की थी। सीजीसी की ओर से इन प्रतिनिधियों को सर्वे रिपोर्ट सौंपी गई। सीएम प्रतिनिधि संजय बठला ने शीघ्र अधिकारियों के साथ मिलकर दौरा करने की बात कही थी। वीरवार को उन्होंने बठला ने नगर निगम, हुडा व सिचाई विभाग के अधिकारियों की टीम के साथ शहर का दौरा किया और व्यवस्था का जायजा लिया। इस दौरान उनके साथ सीजीसी के पदाधिकारी भी मौजूद रहे।

सबसे पहले टीम मुगल कनाल पहुंची। यहां सब्जी मंडी के नजदीक बनाए गए चैनल का निरीक्षण किया गया। कई खामियां पाई गई और इस चैनल पर गेट लगाने की बात कही गई। मेलाराम स्कूल के नजदीक मुगल कनाल पर एक नया चैनल स्थापित करने के सुझाव भी दिए गए। अधिकारियों की टीम ने माना कि सीजीसी की ओर से काफी मेहनत करके सर्वे किया गया। रिपोर्ट के आधार पर जो सुझाव दिए गए हैं उन पर अमल किया जाएगा।

इसके बाद प्रतिनिधियों व अधिकारियों की टीम ने हेरीटेज लान के पास स्थापित जल निकासी केंद्र का दौरा किया। यहां कई कमियां देखने को मिलीं, जिस पर बठला ने अधिकारियों को जल्द व्यवस्था दुरुस्त करवाने के निर्देश दिए। यहां स्थापित कनाल को चौड़ा किया जाएगा। टीम ने मुगल कनाल ड्रेन नंबर एक का निरीक्षण किया। शहर से बाहर एनएच-44 पर जाते ही कनाल खुली हो जाती है। शहर से बाहर पड़ने वाली कनाल की सफाई सिचाई विभाग करवाएगा। इससे पहले यह काम नगर निगम कर रहा था।

इस मौके पर संजय बठला ने कहा कि करनाल में स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत कार्य किए जा रहे हैं। विकास कार्य तीव्र गति से चल रहे हैं। मुख्यमंत्री का स्पष्ट कहना है कि किसी भी तरह लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। अधिकारी अपना काम समय पर करें। ऐसी व्यवस्था बनाए, जिससे जनता को कोई परेशानी न हो। संजय बठला ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि 10 अगस्त तक सभी खामियां दूर की जाएं। सभी व्यवस्थाएं दुरुस्त होनी चाहिए। सीजीसी चेयरमैन एडवोकेट लाजपत राय चुचरा ने कमेटी के सुझावों पर ठोस कदम उठाने के लिए सीएम प्रतिनिधि संजय बठला व अधिकारियों का आभार व्यक्त किया।

इस मौके पर सीनियर डिप्टी मेयर राजेश अघी, कार्यकारी अभियंता निगम प्रियंका सैनी, अक्षय भारद्वाज, एक्सईएन हुडा धर्मवीर, एक्सईएन इरीगेशन नवतेज सिंह, आशीष कौशिक एसडीओ, अंकुश जेई, संचित जेई, रामनिवास भोरिया जेई, पार्षद वीर विक्रम कुमार, सीजीसी चेयरमैन एडवोकेट लाजपत राय चुचरा, पूर्व चेयरमैन संदीप लाठर, नगर स्वच्छता सड़क सुरक्षा के प्रधान केएल विरमानी, महासचिव एसके शर्मा व रजनीश चोपड़ा मौजूद रहे।

Edited By: Jagran