जागरण संवाददाता, करनाल : घरौंडा व करनाल विधानसभा क्षेत्र के समान्य पर्यवेक्षक धीरज कुमार ने कहा कि 21 अक्टूबर को हरियाणा का महोत्सव है, इस महोत्सव को हमे पूरे उत्साह और आनंद के साथ मनाना है। वे वीरवार को अंबेडकर चौक स्थित डॉ. मंगलसेन सभागार में करनाल विधानसभा क्षेत्र के पोलिग स्टाफ को चुनाव संबंधित प्रशिक्षण के दौरान संबोधित कर रहे थे। पर्यवेक्षक ने कहा कि दुनिया के कई देशों में प्रजातंत्र की व्यवस्था नहीं है। यह हम सब के लिए गर्व की बात है कि हमारे देश मे मजबूत लोकतंत्र की व्यवस्था है और इस व्यवस्था को कायम रखने की जिम्मेदारी सबसे अधिक अधिकारियों और कर्मचारियों की है। मात्र दो दिन की ड्यूटी रूपी छोटी सी कीमत अदा करके हम इस लोकतंत्र को मजबूती दे सकते हैं। उन्होंने कहा कि अधिक से अधिक लोग मतदान में भागीदारी करे, इसके लिए हमें अपने बूथ पर मतदाताओं की सुविधा के लिये सभी जरूरी व्यवस्थाओं के पुख्ता इंतजाम सुनिश्चित करने होंगे। इस अवसर पर विधानसभा क्षेत्र के रिटर्निंग अधिकारी नरेंद्र मालिक ने कहा कि शांतिपूर्ण चुनाव संपन्न करवाने के लिए यह जरूरी है कि हमें अपनी ड्यूटी की संवेदनशीलता को समझें और चुनावी प्रक्रिया के सभी पहलुओं की जानकारी ध्यानपूर्वक ग्रहण करें। हर चुनाव एक अलग चुनाव होता है, इस बात को ध्यान में रखते हुए आज के इस प्रशिक्षण सत्र का आयोजन किया गया है। उन्होंने कहा कि चुनाव के अहम पहलुओं के बारे में बताते हुए कहा कि पिछले चुनावों की भांति यह चुनाव भी ईवीएम से होगा और इसलिए मॉकपोल की अहमियत सबसे ज्यादा है जो ईवीएम की विश्वसनीयता को कायम रखने के लिए जरूरी प्रक्रिया है। उन्होंने चुनाव उपरांत मशीन की सीलिग से सम्बंधित महत्वपूर्ण जानकारियां सांझा की। साथ ही उन्होंने टेंडर वोट, टेस्ट वोट, चैलेंज वोट और प्रॉक्सी व क्लासीफाइड वोट के बारे भी विस्तारपूर्वक बताया। उन्होंने मशीन को सील करने, बूथ सेटअप, वोटिग कंपार्टमेंट सेटअप, कतार प्रबंधक और सुरक्षा इंतजामों सहित सभी पहलुओं की विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने 49 एमए प्रक्रिया के बारे भी बताया। साथ ही प्रथम, द्वितीय तथा तृतीय पोलिग अधिकारी की ड्यूटी के बारे मे भी जानकारी दी। इस मौके पर मास्टर ट्रेनर अमरीश, अरविद, सूबे सिंह और अनिल कुमार ने ईवीएम के तकनीकी पहलुओं के साथ साथ पूरी चुनावी प्रक्रिया के बारे मे बताया। इस मौके पर पोलिग स्टाफ के ज्ञानवर्धन के लिए पावर प्वाइंट प्रस्तुति व वीडियो भी दिखाई गई। इस मौके पर प्रशिक्षण के नोडल अधिकारी एवं डीआरओ श्यामलाल, तहसीलदार दर्पण कांबोज, बीडीपीओ अंकित चौहान, पंचायती राज के अधीक्षक अभियंता रामफल सहित सभी माइक्रो ऑब्जर्वर व भारी संख्या में पोलिग स्टाफ उपस्थित रहा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप