मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

जागरण संवाददाता, करनाल : जिला चुनाव प्रशिक्षण अधिकारी एवं एसडीएम घरौंडा गौरव कुमार ने कहा कि चुनाव के बाद मतगणना भी बेहद संवेदनशील कार्य है। जिसमें चुनाव लड़ रहे उम्मीदवार और मतगणना के लिए उम्मीदवारों द्वारा नियुक्त मतगणना एजेंटों की संतुष्टि आवश्यक है। वह सोमवार को कल्पना चावला राजकीय मेडिकल कॉलेज के सभागार में मतगणना सुपरवाइजरों, मतगणना सहायकों तथा सूक्ष्म पर्यवेक्षकों को प्रशिक्षण दे रहे थे।

उन्होंने बताया कि मतगणना 23 मई को एसडी मॉडल स्कूल में सुबह आठ से शुरू होगी। मतगणना के लिए नियुक्त किए गए अधिकारी व कर्मचारी मतगणना से एक घंटा पहले 7 बजे मतगणना केंद्र में पहुंचेंगे। कंट्रोल यूनिट में मतों की गणना शुरू करने से पहले उम्मीदवारों के एजेंटों के समक्ष कंट्रोल यूनिट के टैग व सील को खोला जाएगा।

मतगणना शुरू करने से पहले कंट्रोल यूनिट को ऑन करते ही उसमें उम्मीदवारों की संख्या तथा मशीन का सीरियल नंबर सहित संपूर्ण जानकारी देखी जा सकेगी। मतगणना के लिए रिजल्ट का बटन दबाने से पहले सभी क्लोज बटन दबाना सुनिश्चित करेंगे।

मतगणना के समय उम्मीदवारों के वोट, फार्म 17-सी पार्ट-2 में भरे जाएंगे। प्रत्येक राउंड के बाद यह फार्म आगामी कार्यवाही के लिए सहायक निर्वाचन अधिकारी के पास भेजा जाएगा। उन्होंने कहा कि सूक्ष्म पर्यवेक्षक इस पूरी कार्यप्रणाली पर नजर रखेंगे। इस मौके पर मास्टर ट्रेनर अमरीश, उप जिला निर्वाचन अधिकारी नवीन आहुजा, एसडीएम करनाल नरेंद्र पाल मलिक, एसडीएम इंद्री सुमित सिहाग, एसडीएम असंध अनुराग ढालिया, डीआरओ करनाल श्याम लाल व चुनाव तहसीलदार सुनील भौरिया उपस्थित रहे।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप