जागरण संवाददाता, करनाल :

संविधान निर्माता डा. भीमराव आंबेडकर की जयंती पर सामाजिक, धार्मिक व राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों ने बाबा साहब के दिखाए पथ पर चलने का आह्वान किया। सदस्यों ने आंबेडकर चौक पर बाबा साहब की प्रतिभा पर पुष्प अर्पित किए और उनकी शिक्षाओं को याद किया। कांग्रेस के जिला संयोजक त्रिलोचन सिंह ने कार्यकर्ताओं के साथ श्रद्धांजली अर्पित की। उन्होंने कहा कि बाबा साहब ने भारत को संविधान दिया। यह संसार का सबसे श्रेष्ट संविधान हैं। जिसके माध्यम से आज भी देश एकता और अखंडता के सूत्र में बंधा हुआ हैं। इसके कारण देश के लोगों के उनके मौलिक अधिकार मिले। सभी को समान रूप से विकास करने का अधिकार मिला।

इस अवसर पर संत रविदास सभा करनाल के प्रधान रोहित जोशी, दया प्रकाश, प्रेम मलवानिया, सुनहरा वाल्मीकि व परमजीत भारद्वाज, उपस्थित थे।

बाबा साहब का ऋणी है समाज : राजकुमार

फोटो---06 नंबर है।

रोडवेज एस.सी एंप्लाइज संघर्ष समिति ने करनाल डिपो स्थित कार्यालय में भारत रत्न डा. आंबेडकर की जयंती मनाई। राज्य उपप्रधान मनोज इंदौरा ने कहा कि आज का दिन हमारे लिए बहुत ही महत्वपूर्ण व सौभाग्यशाली है। भारत देश की हर प्रकार की कार्यशैली बाबा साहब के दिए हुए संविधान अनुसार चलती है। डिपो प्रधान राजकुमार जंजो ने कहा कि संविधान निर्माता बाबा साहब का दलित समाज सहित सर्व समाज हमेशा ऋणी रहेगा।

इस मौके पर डिपो सचिव संजीव बसी, डिपो कैशियर सुनील शेरा, वरिष्ठ उपप्रधान जोगिदर कुटेल व उपप्रधान सतीश मंजूरा मौजूद रहे।

बाबा साहब का संघर्ष बना मिसाल : जोगिद्र

फोटो---07 नंबर है।

कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने डा. भीमराव अंबेडकर की जयंती के मौके पर उन्हें नमन किया। प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पूर्व संगठन सचिव जोगिद्र वाल्मीकि के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने डा. अंबेडकर की प्रतिमा पर फूल मालाएं अर्पित की। जोगिद्र बाल्मिकी ने कहा कि समाज के वंचित वर्गो को मुख्यधारा में लाने के लिए किया गया उनका संघर्ष हर पीढ़ी के लिए एक मिसाल बना रहेगा। इस अवसर पर संजीव कंबोज एडवोकेट, राजेंद्र नंबरदार, सुखराम बेदी, रिकल, मांगे राम व घनश्याम सैनी मौजूद रहे। बाबा साहब को किया नमन

बाबा साहब की जयंती पर गांव रांवर में डा. भीमराव आंबेडकर सभा रांवर की तरफ से कार्यक्रम का आयोजन किया गया। हरियाणा रत्न अवार्डी जोगिद्र रांवर ने कहा कि डा. भीमराव आंबेडकर किसी व्यक्ति विशेष या एक समाज के न होकर संपूर्ण भारतवर्ष के लिए सम्मानीय थे। उन्होंने संपूर्ण भारतवर्ष के लिए कार्य कर भारत के संविधान की रचना की। जिसका पूरा भारत देश आज लाभ उठा रहा है।

इस अवसर पर राजपाल कैथल, विनोद बर्मन, महासचिव विक्रांत भैवान, विकास गंजोगढी, सतबीर सोलंकी, कर्मपाल बांगड व सचिन चौहान मौजूद रहे।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021