जागरण संवाददाता, करनाल

केवीए डीएवी महिला महाविद्यालय में भौतिक विज्ञान विभाग की ओर से परमाणु भौतिक की मूल बातें विषय पर एक्सटेंशन लेक्चर हुआ। कार्यक्रम प्रिसिपल सुजाता गुप्ता की देखरेख में हुआ। मुख्य वक्ता के तौर पर केयूके भौतिक विज्ञान विभाग से प्रो. राजेश खर्ब ने अपने विचार रखे। प्रो. राजेश का स्वागत प्रिसिपल सुजाता गुप्ता, विभागाध्यक्ष रेनू मेहता, मीनू शर्मा, मीना मान, श्रुति जैन और ललिता ने पौधा देकर किया। प्रो. राजेश खर्ब ने 41 अंतरराष्ट्रीय, सात राष्ट्रीय रिसर्च प्रकाशित किए हैं। इसके साथ ही उन्होंने सात पीएचडी, चार एमफिल स्टूडेंटस को गाइड किया। उन्होंने कहा कि परमाणु बम नाभिकीय विखंडन के सिद्धांत पर आधारित है। हाइड्रोजन बम नाभिकीय संलयन पर आधारित है। सूर्य और तारों से प्राप्त उष्मा का मुख्य स्रोत नाभिकीय संलयन अभिक्रिया ही है। उन्होंने कहा कि नाभिकीय रिएक्टर में अनेक प्रकार के समस्थानिक उत्पन्न किए जा सकते हैं, जिसका उपयोग चिकित्सा विज्ञान और कृषि के क्षेत्र में किया जा सकता है। छात्राओं ने मुख्य वक्ता के समक्ष कई प्रश्न रखे, जिसका जवाब उन्होंने बहुत ही सहज और सरल तरीके से दिया। कार्यक्रम में भौतिक विज्ञान विभाग की अध्यक्ष रेनू मेहता, मीनू शर्मा, मीना मान, श्रुति जैन, ललिता, दिनेश और अजय का योगदान रहा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस