जागरण संवाददाता, करनाल : सेक्टर 13 में छह दिन पहले सड़क हादसे में हुई रोबिन नागपाल की रहस्यमयी मौत के मामले से सीआइए वन ने पर्दा उठा दिया है। स्वजन जो आशंका जता रहे थे, वही साबित हुआ। रोबिन की मौत सड़क हादसे में नहीं बल्कि उसकी हत्या हुई है। जिसमें तीन आरोपित को सीआइए टीम ने काबू कर लिया है। वे रोबिन के साथ सैर कर रहे उसके दोस्त अरविद को प्रॉपर्टी विवाद में मारना चाहते थे, जिसके लिए उसे कार से टक्कर मारी, लेकिन इसमें रोबिन भी कार की चपेट में आ गया, जिससे उसकी मौत हो गई। पुलिस ने अब इस संबंध में हत्या का केस दर्ज कर लिया है। पकड़े गए आरोपितों में राजकुमार उर्फ राजू बठला वासी रामबाग, गौरव वासी रूप कालोनी व नीरज वासी हरि राम एनक्लेव शामिल हैं। बता दें कि 10 सितंबर को रात करीब साढ़े 11 बजे रोबिन नागपाल व उसका दोस्त अरविद सैर कर रहे थे। वे सेक्टर 13 से होते हुए घर की ओर लौट रहे थे कि एक कार ने उन्हें पीछे से टक्कर मार दी। इसमें दोनों गंभीर रूप से घायल हो गए थे। अगले ही दिन रोबिन ने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। उसके स्वजन इस हादसे पर शुरू से ही आशंका जता रहे थे। यहां तक कि स्वजनों ने अन्य लोगों के साथ मिलकर सेक्टर 13 पुलिस चौकी पर भी जमकर रोष जताया था तो वहीं एसपी से भी मामले की जांच की गुहार लगाई थी। एसपी ने जांच सीआइए वन को सौंपी थी। अरविद से काफी समय से था विवाद

पुलिस के अनुसार आरोपित राजू बठला ने पूछताछ में बताया है कि उनका अरविद के साथ कुंजपुरा रोड पर स्थित दुकान को लेकर लंबे समय से विवाद था। उन्होंने बताया कि वारदात के समय उसके साथ नीरज व गौरव भी गाड़ी में सवार थे। रास्ते में अरविद व उसका दोस्त रोबिन जाते दिखाई दिए तो अरविद को रंजिशन टक्कर मार दी, जिससे रोबिन भी चपेट में आ गया।

Edited By: Jagran