संवाद सहयोगी, तरावड़ी : कस्बे के वार्ड नंबर चार की बंसल मार्केट में रहने वाले एक कोचिग सेंटर संचालक दीपक गुप्ता को बदमाशों ने लिफ्ट देकर 50 हजार रुपये लूट लिए। बदमाशों ने कोचिग सेंटर संचालक को तरावड़ी जीटी रोड से लिफ्ट दी और शाहबाद से झांसा जाने वाली सड़क पर चाकू दिखाकर 50 हजार रुपये लूट की वारदात को अंजाम दिया। शिकायत के आधार पर पुलिस तमाम पहलुओं से पूरे मामले की जांच कर रही है।

शिकायतकर्ता दीपक गुप्ता ने तरावड़ी थाने में पुलिस को शिकायत दर्ज करवाई। दीपक गुप्ता ने बताया गया कि वह शाहबाद में कोचिग सेंटर चलाता है। जब वह सुबह राष्ट्रीय राजमार्ग पर खड़ा था तो एक क्वालिस गाड़ी में आए और उनसे अंबाला की तरफ का रास्ता पूछा। इसके बाद उन्होंने दीपक गुप्ता को लिफ्ट देने के बारे में कहा। चूंकि उसे शाहबाद जाना था तो वह उनकी कार में सवार हो गया। जैसे ही वे शाहबाद की तरफ चले तो उसे चाकू दिखा दिया और शाहबाद से झांसा रोड पर जाने वाले रास्ते में उससे करीब 50 हजार रुपये की नकदी लूट ली। दीपक गुप्ता ने बताया कि पहले तो उसे चाकू दिखाया गया, फिर डरा धमका कर 20 हजार रुपये लूट लिए। इसके बाद दूसरी जगह पर जाकर तलाशी ली तो दूसरी जेब में रखे करीब 20 हजार रुपए और छीन लिए। इसके बाद बदमाशों ने धक्का-मुक्की करते हुए मोबाइल से भी पैसे ट्रांसफर करवाए और एटीएम सहित क्रेडिट कार्ड भी चेक किए।

लूटपाट की वारदात को अंजाम देने के बाद बदमाश उसे शाहबाद की तरफ जाने वाले सुनसान रास्ते पर छोड़कर फरार हो गए। उसने पुलिस को दी शिकायत में बदमाशों को जल्दी ही पकड़ने की गुहार लगाई। शिकायतकत्र्ता के साथ तरावड़ी थाने में पहुंचे नगरपालिका के पूर्व प्रधान वीरेंद्र बंसल ने इस घटना को लेकर रोष जाहिर किया। उन्होंने कहा कि इस तरह की वारदात को अंजाम देने वालों को सख्त सजा दी जानी चाहिए। उन्होंने पुलिस से बदमाशों को जल्द पकड़ने की मांग की। पुलिस का कहना है कि दीपक गुप्ता की शिकायत मिलने के बाद तमाम पहलुओं से पूरे मामले की जांच की जा रही है। जल्द ही आरोपितों को काबू कर लिया जाएगा।

-----------------------

बुलंद हैं बदमाशों के हौसले

त्योहारी सीजन में बदमाशों के हौसले इस हद तक बुलंद हैं कि वे पूरी तसल्ली के साथ न केवल लूटपाट की घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं बल्कि लोगों को खौफजदा करने में भी कोई कमी नहीं छोड़ रहे। यही झलक नुमायां उन्होंने ताजा वारदात में पहले पीड़ित की जेब में रखा गया कैश लूटा और इसके बाद बदमाशों ने धक्का-मुक्की करते हुए मोबाइल से भी पैसे ट्रांसफर करवाए। इतना ही नहीं, बदमाशों ने एटीएम सहित क्रेडिट कार्ड भी चेक किए। इससे साफ है कि वे पूरी तैयार के साथ सिलसिलेवार ढंग से इस प्रकार की घटनाओं को अमली जामा पहना रहे हैं।

Edited By: Jagran