जागरण संवाददाता, करनाल :

मान्यता लेने के लिए जिले के 166 गैर मान्यता स्कूलों को जिला शिक्षा अधिकारी की ओर से नोटिस जारी किया गया था। लेकिन निर्धारित समय तक महज छह स्कूलों ने ही स्कूल की मान्यता लेने के लिए दस्तावेज डीईओ कार्यालय में जमा कराए हैं। ऐसे में अब नियमों की अनदेखी करने वाले 160 स्कूलों को विभाग सील करेगा। इसके लिए अधिकारियों ने तैयारी कर ली है। स्कूल ना‌र्म्स पर खरे न उतरने वाले इन 166 स्कूलों को 20 जुलाई तक मान्यता के लिए दस्तावेज जमा कराने थे। इन स्कूलों में करीब 15000 बच्चे पढ़ते हैं।

-------------

डीईओ की अध्यक्षता वाली कमेटी करेगी स्कूल सील

विभाग की ओर से स्कूलों की जांच करने के लिए जिला स्तरीय कमेटी बनाई गई है। यह कमेटी ही मान्यता के लिए आए दस्तावेजों की जांच करेगी कि कौन सा स्कूल मान्यता के योग्य है या नहीं। इस कमेटी की चेयरमैन जिला शिक्षा अधिकारी सरोज बाला गुर है। वहीं संबंधित ब्लॉक का बीईओ, एक ¨प्रसिपल व जिला विज्ञान विशेषज्ञ जांच कमेटी के सदस्य हैं। जो अब 160 स्कूलों को सील करेगी। यह टीम स्कूल इंस्पेक्शन प्रफार्मा के सभी ¨बदुओं पर जांच करेगी।

--------------

स्कूल का नाम बदला तो संचालक पर होगा केस दर्ज

अक्सर ऐसा होता है कि जिस स्कूल पर विभाग ताला जड़ता है। संचालक उसका नाम बदलकर दोबारा स्कूल खोल लेते हैं। लेकिन इस बार ऐसा नहीं होगा। यदि जिस स्कूल को सील किया जाएगा, अगर फिर भी स्कूल चलाया जाता है तो स्कूल मुखिया सहित अन्य पर पुलिस कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

-----------

मैनेजमेंट इंफोर्मेशन सिस्टम टटोलना हुआ शुरू

नियमों के अनुसार मैनेजमेंट इंफोर्मेशन सिस्टम के तहत सभी निजी स्कूलों को अपने विद्यार्थियों का पूरा डाटा ऑन लाइन करना होता है। ऐसे में जिस विद्यार्थी का जहां दाखिला होगा, वह वहीं पढ़ाई कर सकेगा। इसलिए विभाग की टीम ने इस सिस्टम को टटोलना शुरू कर दिया है।

---------------

फोटो---26 नंबर है।

166 स्कूल बिना मान्यता के चल रहे हैं। ज्यादातर स्कूल नए खुले हैं। इन्हें मान्यता लेने के लिए नोटिस जारी किया गया था। तय तिथि तक छह स्कूलों ने ही दस्तावेज जमा कराए हैं। अब अन्य स्कूलों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। -सरोज बाला गुर, डीईओ करनाल।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप