जागरण संवाददाता, कैथल : डॉ. भीमराव आंबेडकर कॉलेज परिसर में वाल्मीकि संस्कृत विश्वविद्यालय की ओर से निर्मित अस्थाई शैक्षिक प्रकोष्ठ के उद्घाटन पर कोरोना वायरस को नष्ट करने के लिए यज्ञ करवाया गया। गणेश पूजन से पहले कलश स्थापना के साथ पुरुष सूक्त श्री सूक्त एवं विभिन्न कृमि नाशक वैदिक मंत्रों से स्टाफ सदस्यों ने आहुति प्रदान की। इस अवसर पर मुख्य यजमान के रूप में विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. श्रेयांश द्विवेदी एवं सम्मानित कुलसचिव प्रो. यशवीर सिंह की गरिमामय उपस्थिति रही। यद्यपि विश्वविद्यालय के नियमानुसार साप्ताहिक यज्ञ का आयोजन होता रहा है। यह विशेष अवसर है जबकि विश्वविद्यालय का नया अस्थाई शैक्षिक भवन निर्मित हुआ है। इसके साथ ही विश्व और भारत को कोरोना वायरस जनित रोग से भयमुक्त करने के लिए विशेष प्रकार की औषधियों से आहुति प्रदान की।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस