संवाद सहयोगी, कलायत :

हरियाणा की महिला एवं बाल विकास मंत्री कमलेश ढांडा ने कहा कि कलायत हलके से उनका केवल राजनैतिक नहीं बल्कि सामाजिक नाता है। उनके पति पूर्व मंत्री स्व. नरसिंह ढांडा ने जो सौहार्द पूर्ण संबंध जनता के साथ कायम किया था उसको हमेशा कायम रखा जाएगा। वे शुक्रवार को स्थानीय लोक निर्माण विश्राम गृह में आयोजित खुले दरबार में लोगों की समस्याएं सुन रही थी। इससे पहले उन्होंने विभिन्न विभागों के अधिकारियों के साथ सरकार की विकास एवं कल्याणकारी नीतियों को लेकर व्यापक विमर्श किया। साथ ही भावी योजनाओं के रोड मैप को लेकर अधिकारियों और जनता से राय ली। ढांडा ने कहा कि जनता की हर छोटी बड़ी तकलीफ का निराकरण राजनेताओं और अधिकारियों का पहला दायित्व है। जनता की बदौलत ही राजनेताओं और अधिकारियों को कुर्सी के साथ-साथ पद की जिम्मेवारी मिलती है। प्रदेश मुख्यमंत्री मनोहर लाल पहले ही यह स्पष्ट कर चुके हैं कि कुशलता से कार्य करने वाले अधिकारियों-कर्मचारियों को सम्मान निश्चित रूप से दिया जाएगा। जबकि ड्यूटी में कोताही करने वाले अधिकारियों के खिलाफ त्वरित कार्रवाई होगी।

मंत्री ने लगाई अधिकारी को फटकार

खुले दरबार में राज्यमंत्री ने बिजली निगम के एक अधिकारी को जमकर फटकार लगाई। उन्होंने नसीहत दी कि अधिकारी का दायित्व जनता के साथ बगैर भेदभाव पेश आना है। विधानसभा चुनाव के दौरान और अब जिस प्रकार बिजली विभाग के कुछ अधिकारी-कर्मचारी बिजली छापा कार्रवाई के नाम पर जनता को बेवजह परेशान कर रहे हैं। उनकी कार्यप्रणाली की शिकायत उनके पास है। सरकार की छवि शराब करने की इस साजिश के मंसूबे कतई फलीभूत नहीं होंगे। उपभोक्ताओं को चोरी के झूठे मामलों में फंसाने और द्वेष की भावना से काम करने वालों की खैर नहीं।

ये रहे मौजूद

इस मौके पर दिलावर सिंह, नगर पालिका चेयरपर्सन प्रतिनिधि सलिद्र प्रताप राणा, मार्केट कमेटी वाइस चेयरमैन राकेश कांसल, हरियाणा अग्रवाल संघर्ष समिति प्रदेशाध्यक्ष बीडी बंसल, राजेश बिढाण, कृष्ण बढ़सीकरी, राजीव राजपूत, भारत मन्नू कपूर, सतीश धीमान, सोमनाथ राणा, ललीत धीमान, जसवंत कौलेखां, नंबरदार संजय सिगला, विरेंद्र राणा, सुरेश वाल्मीकि, सतबीर कुराड़, महीपाल दुमाड़ा मौजूद थे। ---------------

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस