जागरण संवाददाता, कैथल : गांव सिसला सिसमौर राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय के दसवीं कक्षा के विद्यार्थियों ने नेशनल स्किल क्वालीफिकेशन फ्रेमवर्क के तहत हेल्थ केयर विजन टेक्नीशियन विषय के बारे में अधिक जानकारी के लिए गुप्ता आंखों के अस्पताल का भ्रमण किया। आंखों के विशेषज्ञ डॉ. विकास गुप्ता ने सभी जांच मशीनों, लैब व अस्पताल के विभिन्न हिस्सों के बारे में बारीकि से उन्हें जानकारी दी। उन्होंने अंत में बच्चों से सवाल- जवाब भी किए और कुछ जरूरी व व्यावहारिक बातें भी बताई।

उन्होंने कहा कि कुछ आंखों संबंधी बीमारियां ऐसी होती हैं जिनका समय रहते इलाज संभव है, लेकिन ज्ञान नहीं होने से देरी हो जाती है। आंखें शरीर का सबसे जरूरी अंग हैं। हमें अन्य अंगों की तरह ही आंखों का भी ख्याल रखना चाहिए, लेकिन अधिकतर लोग इस मामले में लापरवाही बरतते हैं। ज्यादातर मरीज तब अस्पताल में पहुंचते जब बहुत देर हो चुकी होती है।

बच्चों के साथ आए वोकेशनल टीचर्स मनप्रीत व शीला देवी ने बताया कि स्कूलों में एनएसक्यूएफ के तहत विभिन्न तरह के कोर्स करवाए जा रहे हैं जो पढ़ाई के साथ साथ बच्चों रोजगार प्रदान करने में महत्वपूर्ण हैं। स्कूल भ्रमण की ये गतिविधियों इन कोर्स का हिस्सा हैं, ताकि बच्चों को व्यवहारिक बातों के बारे में पता चल सके।

उन्होंने बताया कि भविष्य में भी इस तरह के भ्रमण विद्यार्थियों के करवाए जाएंगे। इसके अलावा बच्चों की आंखों की जांच भी करवाई गई। जिन बच्चों की आंखों में कुछ दिक्कत है उनके माता पिता को बुलाकर इलाज के बारे में जानकारी दी जाएगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस