सुनील जांगड़ा, कैथल : करीब डेढ़ महीने से खेल स्टेडियमों से दूर रहे खिलाड़ियों के लिए अच्छी खबर है। कोरोना के कारण खेल विभाग की तरफ से सभी इंडोर और आउटडोर खेल स्टेडियमों को बंद कर दिया गया था। खिलाड़ियों को ऑनलाइन घर पर ही खेलों की ट्रेनिग दी जा रही थी। दस जून को खेल एवं युवा कार्यक्रम विभाग के निदेशक की तरफ से राज्य के सभी जिला खेल एवं युवा कार्यक्रम अधिकारियों को पत्र भेज दिया गया है। पत्र में लिखा है कि कुछ दिनों से कोरोना के केस कम हो रहे हैं। ऐसे में कोरोना नियमों का पालन करने हुए आउटडोर स्टेडियम खोलने का फैसला लिया गया है।

इसके लिए एक समय में सिगल और टीम गेम में दस खिलाड़ी ही अभ्यास कर पाएंगे। इंडोर स्टेडियम खोलने का फैसला फिलहाल नहीं लिया गया है। कैथल जिला खेल अधिकारी की तरफ से सभी खेल प्रशिक्षकों को आउटडोर स्टेडियमों में प्रशिक्षण शुरू करवाने के निर्देश दे दिए गए हैं। सोमवार से खिलाड़ी नियमित रूप से खेलों का अभ्यास शुरू कर सकेंगे। जिले भर में विभिन्न खेलों के 20 खेल सेंटर चल रहे हैं। इन सेंटरों पर करीब 1500 खिलाड़ी अभ्यास करते थे।

इंडोर स्टेडियम को बनाया हुआ है वैकल्पिक अस्पताल

जिला प्रशासन की तरफ से अंबाला रोड स्थित इंडोर खेल स्टेडियम को वैकल्पिक अस्पताल बनाया हुआ है। स्टेडियम में 104 बेड भी लगाए हुए हैं। कोरोना की आपात स्थिति स्थिति से निपटने के लिए यह फैसला लिया गया था। हालांकि इस दौरान कोई भी कोरोना मरीज यहां भर्ती नहीं किया गया है। अब कोरोना के केस कम हो गए हैं और अस्पतालों में भी बेड खाली हो गए हैं। फिलहाल प्रशासन की तरफ से स्टेडियम से बेडों को नहीं हटाया गया है।

खेल प्रशिक्षकों को पत्र जारी किया

जिला खेल अधिकारी सतविद्र गिल ने बताया कि खेल मुख्यालय की तरफ से आउटडोर स्टेडियमों में प्रशिक्षण शुरू करवाने को लेकर निर्देश दिए गए हैं। सभी खेल प्रशिक्षकों को अभ्यास शुरू करवाने के लिए पत्र जारी कर दिया गया है। कोरोना नियमों का पालन करते हुए खिलाड़ियों को अभ्यास करवाया जाएगा।

Edited By: Jagran