कैथल [सुरेंद्र सैनी]। षड्दर्शन साधु समाज हरियाणा के उपाध्यक्ष व कैथल के सांघन गांव स्थित प्राचीन श्रृंगी ऋषि आश्रम के महंत रामभज दास पर कुछ लोगों ने हमला कर दिया। बुधवार रात हुए इस हमले में वह गंभीर रूप से घायल हो गए। हमलावरों ने उन्हें कलायत के खरकपांडवा गांव के नजदीक खेतों में फेंक दिया। सिर पर गहरी चोट होने के कारण भानपुरा डेरे के महंत ने उन्हें सिविल अस्पताल कैथल दाखिल करवाया। यहां से उन्हेंं पीजीआइ चंडीगढ़ रेफर कर दिया, यहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई।

कलायत थाना पुलिस ने मरने से पहले महंत के बयान दर्ज किए। मंदिर में सेवादार गांव के दो युवकों के भी बयान दर्ज करते हुए आरोपितों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है। गांव के सरपंच सरदार सुरजीत सिंह ने बताया कि हमला एक साजिश के तहत करवाया गया है। आरोप लगाया कि बुधवार रात को करीब आठ बजे बेलरखां गांव का एक आदमी महंत को आश्रम से जूस पिलाने के बहाने लेकर गया था। देर रात को उन्हें हमले की सूचना मिली।

महंत ने मरने से पहले उन्हें जानकारी दी कि बेलरखां गांव का कुलदीप और एक अन्य नेहरा नाम का युवक उन्हें लेकर गए। किसी छविदास नाम के व्यक्ति ने उन पर हमला करवाया है। पुलिस ने बयान दर्ज करते हुए जांच शुरू कर दी है। महंत रामभज दास 26 साल के थे। एमए तक की पढ़ाई की हुई थी। चार साल पहले ही काकौत गांव के डेरे से यहां मंदिर में आए थे। महंत के कार्यकाल के दौरान गांव में काफी कार्य हुए। महंत की हत्या से लोगों में गुस्सा है। सरपंच ने बताया कि पीजीआइ चंडीगढ़ में शव का पोस्टमॉर्टम हो गया है। अंतिम संस्कार गांव में किया जाएगा।

वहीं, महंत की हत्या पर षड्दर्शन साधुसमाज हरियाणा के अध्यक्ष महंत परमहंस ज्ञानेश्वर, भारत साधु समाज हरियाणा के अध्यक्ष महंत बंशी पुरी जी महाराज, अखिल भारतीय तीर्थ पुरोहित महासभा के पूर्व अध्यक्ष पंडित प्रकाश मिश्रा, मां बनभौरी शक्ति पीठ धाम के महाप्रबंधक सुरेन्द्र कौशिक, उपाध्यक्ष वैद्य पंडित प्रमोद कौशिक, महंत महेश मुनि, महंत दीपक गिरी, महंत वासुदेवानंद गिरी, महंत उत्तम गिरी, महंत बबला दास, महंत शांति दास आदि ने दुख व्यक्त किया है। 

यह भी पढ़ें: प्रेमी को रोज रात में फोन कर बुलाती थी प्रेमिका, घरवालों ने देखा तो पीट-पीट कर मार डाला 

यह भी पढ़ें: पाकिस्तान सीमा पर सटे सिब्बल सकौल से संपर्क कटा, PWD ने हटाया अस्थाई पुल

यह भी पढ़ें: पुलिस के सामने भीड़ ने तोड़ा मोर्चरी का ताला, उठा ले गई युवक का शव, संदिग्ध परिस्थितियों में हुई थी मौत

यह भी पढ़ें: Marriage in lockdown: शादियों में 50 लोगों के शामिल होने की गाइडलाइन को हाई कोर्ट में चुनौती

 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021