मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

जागरण संवाददाता, कैथल : मांगों को लेकर नगर पालिका कर्मचारी संघ के सदस्यों ने भूख हड़ताल शुरू कर दी है। अस्थायी कर्मचारियों को पेरोल पर लेने और डोर टू डोर से हटाए गए कर्मचारियों को दोबारा नौकरी पर रखने की मांग को लेकर भूख हड़ताल की गई है। नगर परिषद कार्यालय में ही कर्मचारी हड़ताल पर बैठ गए हैं और हड़ताल सोमवार को भी जारी रहेगी। अगर कर्मचारियों की मांगों को जल्द पूरा नहीं किया गया तो आंदोलन को तेज भी किया जा सकता है।

इसकी अध्यक्षता संघ के जिला प्रधान राजेंद्र सिणद ने की व मंच संचालन विक्की टांक ने किया। शिवचरण व महेंद्र ने बताया कि 24 मई 2018 को सरकार के साथ विभिन्न मांगों को लेकर समझौता हुआ था। समझौते को पूर्ण रूप से लागू नहीं किया जा रहा है। कच्चे कर्मचारियों को पेरोल पर रखना था, लेकिन कार्यालय कर्मचारी, माली व बेलदार को पेरोल पर रखने के आदेश नहीं आए हैं। डोर टू डोर ठेके से हटाए गए 103 कर्मचारियों को काम पर नहीं रखा जा रहा है, जिससे कर्मचारियों में रोष बढ़ता जा रहा है। भूख हड़ताल को विभिन्न कर्मचारी संगठनों का समर्थन भी मिल रहा है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप