संवाद सहयोगी, सीवन :

नौकरी से हटाए गए सीवन के पीटीआइ अध्यापकों ने शारीरिक शिक्षा संघर्ष समिति के बैनर तले खंड शिक्षा अधिकारी सीवन के कार्यालय में धरना दिया। नौकरी बहाली का ज्ञापन खंड शिक्षा अधिकारी को सौंपा। अध्यक्षता शारीरिक शिक्षा संघर्ष समिति के खंड प्रधान पप्पू राम ने की।

उन्होंने कहा कि 1983 पीटीआइ अध्यापकों को सरकार ने नौकरी से निकाल दिया है। यह अध्यापकों के साथ अन्याय है, जिसे किसी भी कीमत पर सहन नहीं किया जाएगा। उच्चतम न्यायालय द्वारा दिए गए निर्णय की अवमानना करते हुए शिक्षा निदेशालय हरियाणा पंचकूला के द्वारा जारी आदेशों के अनुपालन में सभी संबंधित मौलिक शिक्षा अधिकारियों द्वारा 1983 पीटीआइ अध्यापकों को समय से पहले ही सेवा से कार्यमुक्त कर दिया गया।

न्यायालय ने लॉकडाउन के बाद 5 महीने के अंदर दोबारा भर्ती के आदेश दिए थे, लेकिन हरियाणा सरकार ने समय से पहले ही पीटीआइ अध्यापकों को कार्यमुक्त कर दिया है। इस कारण 1983 परिवारों का चूल्हा जलना बंद हो गया है।

इस धरने में हरियाणा विद्यालय अध्यापक संघ, हरियाणा राजकीय अध्यापक संघ, ड्राइंग अध्यापक संघ, प्राथमिक संघ, प्राध्यापक संघ व अनुसूचित जाति अध्यापक संघ आदि ने भी समर्थन किया। कुलभूषण शर्मा, राजकीय स्कूल अध्यापक संघ चेयरमैन, राम फल दयोरा, सुरेश राविश, रमेश लाल सिंह ने अपने विचार रखे। इस अवसर पर संदीप शर्मा, अशोक, रतन लाल, मनदीप सिंह, राम निवास शर्मा, विजय कुमार अध्यापक मौजूद रहे।