जागरण संवाददाता, कैथल:

हरियाणा शारीरिक शिक्षक संघर्ष समिति के द्वारा 25वें दिन भी क्रमिक अनशन व अनिश्चितकालीन धरना जारी रहा। धरने की अध्यक्षता अजीत पाल और मंच का संचालन दिलबाग अंटाल ने किया।

क्रमिक अनशन पर भूपेंद्र शर्मा लेक्चरर, रामपाल गुहला, गुरमीत, सुरेंद्र पाल व चरण सिंह हरियाणा विद्यालय अध्यापक संघ संबंधित सर्व कर्मचारी संघ से बैठे। धरने के समर्थन में विभिन्न कर्मचारी संगठन किसान नेता व राजनीतिक पार्टियों, के नेता पहुंचे और सरकार को चेतावनी दी कि इन पीटीआई की सेवा पूर्ण बहाल की जाए।

इस अवसर पर कवरजीत सिंह राज्य सचिव अध्यापक संघ, भूपेंद्र सिंह जिला संगठन अध्यापक संघ, ओमपाल भाल, जिला प्रधान अध्यापक संघ विजेंद्र मोर, रामपाल शर्मा, शकुंतला, सतबीर गोयत, जयप्रकाश शास्त्री, जगजीत फौजी, भूपेंद्र सिंह, राजेश बेनीवाल, राजकुमार ढुल, गोलू बाता, रमेश चहल, घनश्याम शर्मा समेत कई लोगों ने धरने को समर्थन किया। जयप्रकाश शास्त्री व कंवरजीत सिंह ने कहा कि हरियाणा सरकार के द्वारा बोर्ड यूनिवर्सिटी के पेपर भी कोरोना महामारी के कारण नहीं लिए गए परंतु इन पीटीआइ के पेपर के लिए इतनी जल्दबाजी कर रहे हैं और अगस्त में ही डेट दे दी है, और जबकि एसएस बोर्ड के द्वारा 2015 की निकाली गई नौकरी उनके इंटरव्यू और टेस्ट भी पेंडिग पड़े हैं। सरकार से मांग की है कि समय रहते 1983 पीटीआइ की सेवा बहाल करें और इन्हें नौकरी पर रखा जाए।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस