जागरण संवाददाता, कैथल :

वार्ड नंबर 13 में जनकपुरी कालोनी में रविवार को बिजली न आने से कालोनी के लोगों का गुस्सा फूट पड़ा। जिसके बाद उन्होंने जिला अस्पताल के बाहर हिसार चंडीगढ़ नेशनल हाइवे पर जाम लगा दिया। कालोनी की महिलाएं बच्चों सहित हाइवे पर बैठक गई और निगम के खिलाफ नारेबाजी करने लगी। कॉलोनी के लोगों ने बताया कि हाइवे के पास से गुजर रही बिजली की सप्लाई देने वाली तार ट्रक चालक ने रात के समय तोड़ दी थी, जिस कारण कालोनी पिछले 19 घंटे से बिजली गुल थी। कालोनी वासियों ने निगम पर आरोप लगाया कि शनिवार की रात करीब 10 बजे बिजली की सप्लाई ठप हुई थी, जिसके बाद लगातार बिजली निगम के अधिकारियों को इसकी शिकायत देने के लिए फोन किया गया। लेकिन उन्होंने रविवार को छुट्टी होने के कारण एक बार भी फोन नहीं उठाया। कालोनी के लोगों ने दो घंटे तक जाम लगाए रखा। इस दौरान सबसे पहले बिजली निगम के एसडीओ राहुल पहुंचे, लेकिन लोगों ने उनकी एक न मानी। कालोनी के लोगों ने बिजली निगम एसई को बुलाने की मांग की। जाम के कारण यातायात काफी प्रभावित हुआ, वाहन चालकों को भी काफी परेशानी झेलनी पड़ी। जाम लगा रहे लोगों को नायब तहसीलदार ईश्वर सिंह और डीएसपी कुलवंत सिंह और सिविल लाइन थाना प्रभारी विरेंद्र सिंह शाम 5.30 बजे पहुंचे, उनके आश्वासन के बाद यहां पर बिजली विभाग के कर्मचारी खामी दूर करने के लिए पहुंचे। इसके बाद इन अधिकारियों के आश्वासन के बाद कालोनी के लोगों ने जाम खोला। इसके बाद यातायात सुचारू हुआ।

पीने के पानी की सप्लाई भी ठप हो चुकी

कालोनी वासी शमशेर सिंह ने बताया कि सुबह समस्या को लेकर विभागीय अधिकारियों को अवगत कराया, उन्होंने समस्या के समाधान का आश्वासन देने की बजाय बिजली दो दिन में ठीक होने की बात की। बिजली गुल होने के कारण पीने के पानी की सप्लाई भी ठप हो चुकी है। यदि किसी कारण से से बिजली का बिल न भरा जाए तो भारी भरकम जुर्माना निगम लगाता है। लेकिन अब निगम लोगों की समस्या को अनदेखा कर रहा है। डीसी की ओर से जारी किए गए वाटसएप के नंबर पर समस्या की जानकारी दी, लेकिन इस नंबर से कोई फीडबैक नहीं मिली। जाम की सूचना मिलते ही पार्षद गौरव ढुल और एसडीओ राहुल और सिविल लाइन एसएचओ विरेंद्र कुमार मौके पर पहुंचे। उनके आश्वासन के बाद भी कालोनी के लोग नहीं माने। जिसके बाद डीएसपी कुलवंत और तहसीलदार ईश्वर सिंह ने जाम खुलवाया।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप