जासं, कैथल : डीसी डॉ. प्रियंका सोनी ने जिला वासियों का आह्वान किया है कि वे शीत लहर के दौरान राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा जारी हिदायतों का पालन करें ताकि शीत लहर के प्रकोप से बचा जा सके। उन्होंने कहा कि केवल आवश्यक कार्य के लिए ही घरों से बाहर निकलें तथा मौसम के बारे में मीडिया से लगातार जानकारी हासिल करें। अपने आस-पड़ोस में अकेले रहने वाले बुजुर्गों का विशेष ध्यान रखें। सभी आवश्यक वस्तुओं का पर्याप्त भंडारण रखें। आसानी से गर्म रखे जा सकने वाले अंदर के एक कक्ष का ही प्रयोग करें। नियमित अंतराल पर गर्म पेय पदार्थ लेकर शरीर को गर्म रखा जा सकता है तथा शीत लहर से बचा जा सकता है। पर्याप्त संख्या में गर्म कपड़े सुनिश्चित करें। टोप एवं मफलर ज्यादा देर तक शरीर में गर्म तापमान बनाए रखने में मददगार हैं। कपड़े भीगे होने की स्थिति में तुरंत भीगे कपड़ों को बदलें ताकि शरीर के तापमान को गर्म रखा जा सके। अपने सिर को ढक कर रखें क्योंकि सिर के ऊपरी हिस्से से ही शरीर की गर्मी निकलती है तथा अपने फेफड़ों के संरक्षण के लिए अपने मुंह को भी ढक कर रखें। शरीर को गर्मी प्रदान करने के लिए पौष्टिक आहार लें तथा निरजलीकरण से बचाव के लिए एल्कोहल रहित पेय पदार्थों का सेवन करें। ठंड के लक्षण होने पर तुरंत डॉक्टर से सम्पर्क करें। अनियंत्रित कंपकपी, याददाश्त कमजोर होना आदि की स्थिति में तुरंत डॉक्टर से सम्पर्क करें।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस