जागरण संवाददाता, कैथल :

मंडी में धान का सीजन शुरू हो गया है। मंगलवार को कई किसान 1509 धान लेकर मंडी में पहुंचे। 2400 रुपये से लेकर 2601 रुपये तक धान राइस मिलरों ने खरीदी। खेतों में यह इस किस्म की धान पककर तैयार हो चुकी है, अब किसान केवल मौसम साफ होने का इंतजार कर रहे है। बरसात के बाद खेत गिले होने से कटाई नहीं हो रही है। मौसम साफ होते हुए कंबाइन खेतों में चलेगी और धान की आवक तेज हो जाएगी।

395 ¨क्वटल धान मंडी में पहुंची

395 ¨क्वटल मंगलवार शाम तक दर्ज की गई। गोहरा गांव निवासी गोल्डी सबसे पहले मंडी में धान की ढेरी लेकर पहुंचे। किसान ने बताया कि 1509 धान पककर तैयार है। दो एकड़ की कटाई के बाद मंडी में लेकर आए हैं। 2600 रुपये तक बिकी है। धान की शुरूआत हो गई है। 15 सितंबर के बाद तेज हो जाएगी।

सीजन शुरू, तैयार नहीं मंडी

धान का सीजन शुरू हो गया है, लेकिन मंडी अभी तैयारी नहीं है। मंडी के अंदर साफ-सफाई नहीं है। नाले गंदगी से अटे हुए हैं। सड़कें भी टूटी हुई है। आढ़तियों ने कहा कि ट्रक यूनियन की तरफ जाम की स्थिति रहती है। हर सीजन में प्रशासन के समक्ष शिकायत रखते हैं, लेकिन कोई सुनवाई नहीं होती। जब मंडी धान से ओवरफ्लो हो जाती है तो इस रास्ते का प्रयोग किया जाता है, लेकिन यहां से अतिक्रमण नहीं हटाया जाता। इसी प्रकार राम नगर की तरफ गोबर से दीवार अटी पड़ी है। यहां गंदगी के कारण सीजन में काफी दिक्कत आती है। इस तरफ ध्यान दिया जाना चाहिए।

बाक्स-

शहर में तीन मंडियां

शहर में तीन मंडी है। पुरानी अनाज मंडी रेलवे स्टेशन के नजदीक शहर के बीचों-बीच स्थित है। यह मंडी काफी छोटी है। सीजन के दौरान यहां जाम की स्थिति रहती है। इस कारण मंडी आढ़तियों के साथ-साथ जनता मार्केट, सब्जी मंडी, कबुतर चौक व रेलवे स्टेशन पर आने-जाने वाले यात्रियों को दिक्कत आती है। नई अनाज मंडी मॉडल टाउन जींद रोड के पास व तीसरी मंडी जींद रोड बाइपास पर बनाई गई है। पिछले सीजन से तीसरी मंडी में धान डाली जा रही है।

वर्जन

मार्केट कमेटी सचिव नरेंद्र कुंडू ने बताया कि धान के सीजन को लेकर सभी तैयारियां की गई हैं। पीने के पानी, सफाई व लाइटों सभी प्रबंध किए गए हैं। धान की आवक शुरू हो गई है। मंगलवार को 395 ¨क्वटल धान पहुंचा है। 2400 से 2601 तक बिका है। 15 सितंबर के बाद आवक बढ़ने की संभावना है। किसानों से अपील है कि मंडियों में धान सुखाकर लाएं।

Posted By: Jagran