जागरण संवाददाता, कैथल :

विधानसभा चुनाव में इस बार नोट भी एक प्रभावशाली उम्मीदवार के रूप में उभरा है। यहां पर चारों विधानसभा क्षेत्रों में 25 प्रत्याशियों पर नोटा भारी पड़ा है। यह प्रत्याशी नोट से भी चुनाव नहीं जीत पाए है। सभी विधानसभा क्षेत्रों में सबसे बुरी हालत इनेलो के प्रत्याशियों की हुई है। सभी सीटों पर इनेलो प्रत्याशी नोट से भी हारे है। कैथल विधानसभा क्षेत्र में नोटा को 561 वोट पड़े थे। यहां पर चुनावी रण में कूदे 18 प्रत्याशियों में से 13 प्रत्याशी नोटा से हारे है। जिसमें इनेलो से अनिल तंवर, आजाद प्रत्याशी अश्वनी ह्रतवाल, कुलदीप, सतीश सिघल, प्रवीन राणा, मेवा, फूल सिंह, नरेश जरनैल, सोनू, श्याम लाल, रवि, प्रदीप शर्मा नोट से हारे। कैथल में नोटा कुल 361 वोट मिले यहां पर यह प्रत्याशी इससे अधिक वोट नहीं ले सके। इसी प्रकार विधानसभा कलायत क्षेत्र में कुल 15 प्रत्याशी मैदान में थे। इसमें 261 वोट नोटा को पड़े थे। जिसमें से दो प्रत्याशी नोटा से हारेत्र इसमें कृष्ण व सत्य नारायण शामिल रहे।

गुहला विधानसभा क्षेत्र में कुल 12 प्रत्याशी चुनावी रण में थे। इसमें 790 वोट नोटा को वोट मिले। सात प्रत्याशी नोटा से हार गए। नोटा से हारने वालों में आप पार्टी की पिकी भुक्कल और लोकतंत्र सुरक्षा मंच पार्टी के प्रत्याशी राजकुमार चित्रा सहित, स्वर्ण सिंह, बालू राम, अंजू रानी, बलबीर सिंह नोटा से हार गए।

विधानसभा क्षेत्र पूंडरी में कुल 12 प्रत्याशी मैदान में थे। यहां पर नोटा ने 656 वोट हासिल किए। यहां पर भी चार प्रत्याशी नोटा से हार गए। जिनमें हितेंद्र, कृष, सुशील कुमार और इनेलो के ज्ञान सिंह नोट से हारे।

----------------

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021