कैथल, जागरण संवाददाता  :  बुधवार को दूसरे दिन भी आसमान में पूरा दिन बादल छाए रहे। दो दिन पहले हुई बूंदाबांदी ने ठंड को भी बढ़ा दिया है। वीरवार को भी वर्षा के आसार रहेंगे। बुधवार को जिले में अधिकतम तापमान 19 डिग्री व न्यूनतम तापमान 09 डिग्री दर्ज किया गया है। विशेषज्ञों का मानना है कि अभी गेहूं व सरसों की फसलों के लिए ठंड जरूरी है।

वहीं सब्जियों की कुछ किस्मों जैसे कि मटर व टमाटर की फसलों के लिए नुकसान हो सकता है। कृषि विज्ञान केंद्र के प्रमुख डा. रमेश चंद वर्मा का कहना है कि अगले तीन दिन तक लगातार वर्षा होने की संभावना है। उन्होंने कहा कि वर्षा की संभावना के चलते किसान अपने खेतों में सिंचाई न करें।

बूंदाबांदी से सब्जी, गेहूं व सरसों की फसल को लाभ

पिछले कई दिनों से कोहरा पड़ रहा था जिससे ठंड काफी बढ़ रही थी। मंगलवार को जिले में हुई बूंदाबांदी से मौसम में परिवर्तन हुआ है जिससे पारा चढ़ा है, जिससे गेहूं की फसल, सरसों व सब्जी की फसल लहलहाने लगी है। कृषि विदों का कहना है कि इस बार गेहूं की बंपर फसल होगी व औसत पैदावार में भी बढ़ोतरी होगी। जिससे लोगों को भी ठंड से भी राहत मिलेगी। फसलों की सिंचाई अभी रोक दें।

Ambala News: गन्ने के रेट में मामूली बढ़ोतरी पर भड़के किसान, फूंका सरकार का पुतला

Haryana News: गणतंत्र दिवस से पहले किसानों को सीएम खट्टर का तोहफा, बढ़ाए गन्ने के रेट

Edited By: Nidhi Vinodiya

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट