जागरण संवाददाता, कैथल : नगर परिषद की ओर से शहर में बने कचरा प्वाइंट पर रखने के लिए दस लाख रुपये की कीमत से 20 बड़े डस्टबिन खरीदने हैं। इस समय जो डस्टबिन रखे गए हैं सभी कंडम हो चुके हैं। कई जगहों पर तो डस्टबिन रखे ही नहीं गए हैं, जिस कारण सड़क पर ही गंदगी फैली रहती है।

नप अधिकारियों की टीम डस्टबिनों का इंस्पेक्शन करने के लिए कुरुक्षेत्र पहुंची थी। जांच के दौरान कई खामियां मिली हैं, जिन्हें दूर करने के आदेश दिए गए हैं। डस्टबिनों का रंग ठीक से नहीं किया गया था और इसके अलावा फिनिसिग भी ठीक से नहीं की गई थी। अब टीम कुछ दिन बाद दोबारा से जांच के लिए जाएगी। टीम में मुख्य सफाई निरीक्षक मोहन भारद्वाज, जेई पंकज कुमार, जेई मोहित शामिल रहे। बता दें कि कई महीनों से नगर परिषद की ओर से डस्टबिन नहीं खरीदे गए थे। जो पहले खरीदे गए थे सभी कंडम हो चुके हैं।

बॉक्स

शहर में बने हैं 19 कचरा प्वाइंट

शहर में मुख्य स्थानों पर 19 कचरा प्वाइंट नगर परिषद की ओर से बनाए गए हैं। इसमें मुख्य करनाल रोड, ढांड रोड, अंबाला रोड, पुराना बाइपास, अमरगढ़ गामड़ी, चंदाना गेट, माता गेट, प्रताप गेट पर बने हैं। अब इन स्थानों पर डस्टबिन नहीं है, जिस कारण सड़कों पर ही गंदगी को डाला जाता है। गंदगी के ढेरों में बेसहारा पशु मुंह मारते रहते हैं। सड़क से गंदगी उठाने में कर्मचारियों को परेशानी होती है और समय भी अधिक लगता है। अब नए डस्टबिन आने के बाद मशीन से उठाकर आसानी से उन्हें खाली किया जा सकेगा।

बॉक्स: डस्टबिन में कमियां मिली

नगर परिषद के मुख्य सफाई निरीक्षक मोहन भारद्वाज ने बताया कि डस्टबिनों की इंस्पेक्शन करने के लिए कुरुक्षेत्र गए थे। वहां कुछ कमियां मिली हैं, जिन्हें दूर करने के लिए बोल दिया गया है। कुछ दिन बाद दोबारा से जाकर जांच की जाएगी। जांच में ठीक पाए गए तो जल्द ही उन्हें शहर में जरूरत के हिसाब से रखवा दिया जाएगा।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran